Six Labours Special Train will Run In Lockdown लॉकडाउन में छह स्पेशल श्रमिक ट्रेन चलेगी

lockdown special train, shramik special train, labour special train, स्पेशल श्रमिक ट्रेन के रूट,स्पेशल श्रमिक ट्रेन, shramik special train routes, special shramik train yatri rules, rules for special train passenger, kendriya yojana, sarkari yojana, indian railway scheme, state govt scheme, shramik special train scheme

shramik-special-train pics

Six Labours Special Train will Run In Lockdown लॉकडाउन में छह स्पेशल श्रमिक ट्रेन चलेगी

कोरोना महामारी पर नियंत्रण पाने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन जारी है। ऐसे में देश के विभिन्न प्रदेशों में फँसे श्रमिक, छात्र, तीर्थयात्री एवं पर्यटक को उनके घर पहुँचाने का आदेश गृह मंत्रालय द्वारा जारी कर दिया गया है। गृह मंत्रालय के आदेशानुसार श्रमिकों , छात्रों एवं पर्यटकों को उनके गंतव्य स्थान पहुँचाने के लिए छह स्पेशल ट्रेन शुरू की जायेगी। इन ट्रेनों के रुट्स का भी निर्धारण कर दिया गया है। ये ट्रेने अन्तराष्ट्रीय मजदूर दिवस के दिन अर्थात 1 मई 2020 की सुबह से चलनी शुरू होगी। ट्रेनों का संचालन राज्य सरकारों के अनुरोध पर किया जाएगा। यात्रियों की सुविधा और सुरक्षा की जिम्मेदारी राज्य सरकार और रेलवे की होगी। इसके लिए राज्य सरकारें रेलवे के साथ मिलकर नोडल अधिकारी नियुक्त करेगी। जो ट्रेन्स की रूट, टाइम और यात्रियों के भोजन की जिम्मेदारी संभालेगी। गौरतलब है कि राज्य सरकारों के अनुरोध पर चलने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन में सफ़र कर रहे यात्रियों का किराया राज्य सरकारों से रेलवे वसूलेगी। आइये जाने योजना की पूरी जानकारी।

Special Labor Train Routes  स्पेशल श्रमिक ट्रेन के रूट

इन प्रदेश सरकारों के अनुरोध पर 1 मई 2020 से चलनी शुरू हुयी ट्रेन के रुट्स की लिस्ट निम्लिखित है :

  • अलुवा से भुवनेश्वर : 

केरल के कोच्ची के पास स्थित अलुआ से चलने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन तक जायेगी। इस ट्रेन में केरल में फँसे ओडिशा राज्य के यात्री सफर करेंगे।

  • लिंगमपल्ली से हटिया : 

तेलन्गाना राज्य की राजधानी हैदराबाद से चलने वाली स्पेशल ट्रेन झारखण्ड के हटिया रेलवे स्टेशन क जायेगी। इस ट्रेन में तेलंगाना राज्य में फँसे झारखण्ड राज्य के निवासी यात्रा करेंगे।

  • कोटा से हटिया :

राजस्थान के कोटा रेलवे स्टेशन से चलने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन झारखण्ड राज्य के हटिया रेलवे स्टेशन तक जायेगी। इस ट्रेन में राजस्थान में फँसे झारखण्ड राज्य के निवासी यात्रा करेंगे।

  • नासिक से भोपाल :

महाराष्ट्र के नासिक रेलवे स्टेशन से चलने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल रेलवे स्टेशन तक जायेगी। इस ट्रेन में महाराष्ट्र में फँसे मध्य प्रदेश के निवासी यात्रा करेंगे।

  • नासिक से लखनऊ:

महाराष्ट्र के नासिक रेलवे स्टेशन से चलने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ रेलवे स्टेशन तक जायेगी। इस ट्रेन में महाराष्ट्र में फँसे उत्तर प्रदेश के निवासी सफर करेंगे।

  • जयपुर से पटना :

राजस्थान की राजधानी जयपुर रेलवे स्टेशन से चलने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन बिहार की राजधानी पटना तक जायेगी। इस ट्रेन में राजस्थान में फँसे बिहार के निवासी सफ़र करेंगे।

Rules for Passengers Traveling by Special Train स्पेशल ट्रेन से सफ़र करने वाले यात्रियों के लिए नियम 

  • रेलवे द्वारा राज्य सरकारों से अनुरोध किया गया है कि स्पेशल ट्रेन में सवार होने वाले यात्रियों को सैनिटाइज बसों में सामूहिक रूप से रेलवे स्टेशन तक पहुँचाने की व्यवस्था की जाय। जिससे ट्रेन के डिब्बे में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए बैठाने में मदद मिलेगी।
  • राज्य सरकारों को स्पेशल ट्रेन में जाने वाले यात्रियों को स्टेशन के लिए रवाना करने से पूर्व स्वास्थ्य जाँच थर्मल स्क्रीनिंग द्वारा करने होगा। स्वस्थ यात्री हीं ट्रेन से सफ़र कर सकेंगे। यात्रियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा।
  • राज्य सरकारों को अपने राज्य से चलने वाली ट्रेन में सवार यात्रियों के भोजन, पानी का प्रबंध करना होगा। ट्रेन जिस स्टेशन से चलनी शुरू होगी उसी स्टेशन पर यात्रियों के भोजन, पानी का प्रबध किया जाएगा। रेलवे के कर्मचारी रेल के डिब्बे में साफ़ -सफाई और सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखेंगे।
  • यदि ट्रेन लम्बे रूट तक जायेगी। तो यात्रियों के खाना और पानी का इंतजाम रेलवे करेगी। इसके बाद गंतव्य स्टेशन पर पहुंचने के बाद यात्रियों के क्वारंटाइन, स्वास्थ्य जाँच और यात्रिओं को उनके निवास स्थान तक पहुँचाने की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होगी।
  • स्पेशल ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों के टिकेट का पैसा रेलवे राज्य सरकारों से वसूलेगी। यानी श्रमिक स्पेशल ट्रेन से सफ़र करने वाले यात्रियों के रेल टिकेट के किराए की व्यवस्था राज्य सरकारों की जिम्मेदारी होगी।

नोट : योजना का जानकारी का स्त्रोत न्यूज़ चैनल है

अधिक जानकारी के लिए विडियो देखिये For more information watch video below:

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

छत्तीसगढ़ पढ़ई तुंहर दुआर पोर्टल पंजीकरण प्रक्रिया

कोविड 19 आपदा ई -पास आवेदन

राजस्थान प्रवासी श्रमिक वापसी रजिस्ट्रेशन

 

Leave a Reply