Vehicle Scrap Policy 2021 व्हीकल स्क्रैप पालिसी 2021

vehicle scrap policy, scrap policy 2021, व्हीकल स्क्रैप पालिसी 2021, vehicle scrap policy main points, vehicle scrap policy benefits, vahan malikon ko scrap policy se labh, kendriya yojana, pradhanmantri yojana, sadak rajyamarg yojana, mukhyamantri yojana, vahan kabad niti, वाहन कबाड़ निति 2021

vehicle scrap policy pics

Vehicle Scrap Policy 2021 व्हीकल स्क्रैप पालिसी 2021

केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा आम बजट 2021-22 में वाहन स्क्रैप निति की घोषणा की गयी है। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के अनुसार वाहन कबाड़ नीति के दायरे सड़क पर चल रहे लगभग एक करोड़ वाहन आयेंगे। जिनमें 20 वर्ष से अधिक पुराने 51 लाख हल्के मोटर वाहन एवं 15 साल से अधिक पुराने 34 लाख अन्य एलएमवी  (निजी उद्देश्यों के लिए प्रयोग किये जाने वाले लाइट मोटर व्हीकल) तथा 15 वर्ष से ज्यादा पुराने 15 लाख माध्यम और भारी वाहन आयेंगे। जिनके पास व्हीकल फिटनेस सर्टिफिकेट वर्तमान में नहीं हैं।

वाहन स्क्रैप निति के तहत 20 वर्ष बाद निजी वाहन, 15 वर्ष बाद कमर्शियल वाहन स्वयं डी रजिस्टर कर दिए जायेंगे। केंद्र सरकार , राज्य सरकार, नगर पालिका अथवा सार्वजानिक संस्थानों के वाहन डी रजिस्टर कर दिए जायेंगे। डी रजिस्टर्ड वाहन वाहनों को स्क्रैप कर दिया जाएगा। वाहन स्क्रेपिंग सर्टिफिकेट होने पर वाहन खारिदते समय वाहन निर्माता कंपनियां वहन मूल्य पर 5% की छूट देंगी।

नितिन गडकरी ने कहा कि व्हीकल स्क्रैप निति के लागू होने से सड़क सुरक्षा में सुधार होगा एवं वायु प्रदूषण में कमी आएगी। इसके साथ हीं वाहनों में पेट्रोल और डीजल की खपत कम होगी। फलस्वरूप पेट्रोल एवं डीजल के आयात में भी कमी आएगी। आइये जाने स्क्रैप निति की विस्तृत जानकारी।

Vehicle Scrap Policy Main Points  व्हीकल स्क्रैप पालिसी मुख्य बिंदु

  • इस निति को लागू करने का उद्देश्य पुराने वाहनों को चलाने से लोगों को हतोत्साहित करना है। इसके लिए पुराने वाहनो के रजिस्ट्रेशन शुल्क में वृद्धि की जाएगी।
  • व्यक्तिगत या निजी वाहनों का 20 वर्ष और कमर्शियल वाहनों का 15 वर्ष में फिटनेस टेस्ट होगा फिटनेस टेस्ट में नाकाम वाहनों को स्क्रैप करना अनिवार्य होगा।
  • स्वैच्छिक वाहन स्क्रैप पालिसी के अनुसार वाहन का रजिस्ट्रेशन समाप्त होते हीं वाहन फिटनेस सर्टिफिकेट बनवाना अनिवार्य होगा।
  • देश भर में ऑटोमेटेड वाहन परिक्षण केंद्र स्थापित किये जायेंगे। जिससे फिटनेस टेस्ट की प्रक्रिया आसानी से उपलब्ध हो सकेगी।

Scrap Policy benefit स्क्रैप पॉलिसी के लाभ

  •  सड़क फिटनेस परिक्षण प्राप्त वाहनों के आवागमन से वायु वायु प्रदूषण में कमी आएगी।
  • वाहनों में पेट्रोल /डीजल की खपत कम होने से देश में पेट्रोल एवं डीजल के आयात में कमी आएगी। जिससे अर्थव्यवस्था में सुधार होगा।
  • पुराने वाहनों की स्क्रेपिंग होने से कबाड़ धातु की रीसाइक्लिंग हो सकेगी। जिससे तांबा, रबर, स्टील जैसी धातुओं का वाहन निर्माण दोबारा प्रयोग किया जा सकेगा। जिससे वाहन निर्माण की लागत कम आएगी।

Scrap Policy benefit for Vehicle owners वाहन मालिकों के लिए स्क्रैप पॉलिसी का लाभ

  • वाहन फिटनेस सर्टिफिकेट होने पर खरीदारों को वहन कंपनियां वहन के मूल्य पर 5% की  छूट देंगी। जिससे नए वाहन की खरीदने के लिए लोग प्रोत्साहित होंगे।
  • वाहन मालिकों द्वारा पुराने वाहन के लिए स्क्रैप का विकल्प चुनने पर 4-6% वहन का स्क्रैप मूल्य वाहन मालिक को प्राप्त होगा।
  • वाहन स्क्रेपिंग सर्टिफिकेट होने पर रोड टैक्स में 25% तक की छूट प्राप्त होगी। इस प्रकार स्क्रैप का विकल्प चुनने पर वाहन मालिकों को कुल 10-15 % तक का लाभ प्राप्त हो सकेगा।

योजना की आधिकारिक जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करिए।

अधिक जानकारी के लिए विडियो देखिये For more information watch video below:

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

मेरा राशन एप की मुख्य विशेषताएं

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल सक्षरता अभियान

स्वामी विवेकानंद एतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना

 

2 Comments

  1. Arti April 8, 2021
  2. Alphonso Tools March 25, 2021

Leave a Reply