Rajasthan KUSUM Yojana Application राजस्थान कुसुम योजना आवेदन

KUSUM yojana, Rajasthan KUSUM yojana application, कुसुम योजना आवेदन,KUSUM Yojana Component-A kya hai, KUSUM yojana eligibility,Kusum scheme application fee,Kusum scheme documents,KUSUM yojana aavedan, rajasthan govt scheme, pm kusum yojana, pradhan mantri yojana, kendriya yojana, sarkari yojana, mukhyamantri yojana, kisan yojana, saur urja yojana, solar pump yojana

kusum yojana aavedan pics

Rajasthan KUSUM Yojana Application राजस्थान कुसुम योजना आवेदन

प्रधानमंत्री कृषि उर्जा सुरक्षा उत्थान महाभियान (पीएम कुसुम ) की शुरुआत फरवरी 2019 को की गयी थी। इस योजना को देश के सभी राज्यों में लागू किया गया है। अब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा 1फरवरी 2020-21 के बजट में इस योजना के विस्तार की घोषणा की गयी है। पीएम कुसुम योजना का लाभ 20 लाख किसानों को सोलर पम्प लगाने में सहायता पहुंचाई जायेगी। इसके अतिरिक्त देश के 15 लाख किसानों को ग्रिड से जुड़े सोलर पम्प लगाने के सब्सीडी दिए जाने की योजना बनायी जायेगी। ग्रिड से जुड़े सोलर पम्पों से बने अतिरिक्त बिजली को ग्रिड को बेच कर किसान आय प्राप्त कर सकेंगे। इसके अतिरिक्त किसान अपनी बंजर भूमि पर सौर उर्जा पैदा कर ग्रिड को बेच कर आमदनी प्राप्त कर सकेंगे। इस योजना के लाभार्थी किसानों की डीजल और केरोसिन आयल पर से निर्भरता कम हुई है।

राजस्थान सरकार द्वारा कुसुम योजना में आवेदन आमंत्रित किया जा रहा है। योजना में आवेदन की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर 2019 थी जिसे बढ़ाकर 15 फरवरी 2020 कर दिया गया है। राज्य में कुसुम योजना के कॉम्पोनेन्ट A के तहत आवेदन आमंत्रित किया गया है। योजना के तहत वर्ष 2019 में आगामी 3 वर्षों में किसानों के बंजर भूमि पर 2600 मेगावाट क्षमता के विकेंद्रीकृत  सौर उर्जा संयंत्र स्थापित करने की घोषणा की गयी थी। आवेदन कुसुम योजना के कॉम्पोनेन्ट -ए के अंतर्गत किया जा सकता है। तो आइये जाने योजना में आवेदन की जानकारी।

KUSUM Yojana Component-A kya hai  कुसुम योजना कॉम्पोनेन्ट- ए  क्या है

कुसुम योजना कॉम्पोनेन्ट -ए के अंतर्गत किसान अपनी अनुपयोगी/बंजर भूमि पर सौर उर्जा संयंत्र लगाकर अतिरिक्त उर्जा को ग्रिड को बेच सकते हैं। इससे किसान अपनी बंजर भूमि का उपयोग करकर आमदनी प्राप्त करने में सक्षम हो सकेंगे। इसके लिए निम्न शर्तें निर्धारित की गयी हैं –

  • किसान 500 किलोवाट से  2 मेगावाट क्षमता के विकेंद्रीकृत सौर उर्जा संयंत्र स्थापित कर सकते हैं।
  • उर्जा संयंत्र की स्थापना 33/11 केवी सब स्टेशनो के 5 किलोमीटर की परिधि में स्थित किसानों की बंजर भूमि पर किया जा सकता है।
  • सौर उर्जा संयंत्र स्थापना के लिए प्रति मेगावाट 2 हेक्टेयर भूमि की आवश्यकता होगी।

KUSUM Yojana Eligibility  कुसुम योजना की पात्रता

  • योजना में आवेदन किसान, किसानों का समूह, सहकारी समितियां,पंचायत, किसान उत्पादक संगठन, जल उपभोक्ता संगठन जिनके पास खुद की या लीज पर ली गयी भूमि हो।
  •  किसान, किसानों का समूह, सहकारी समितियां,पंचायत, किसान उत्पादक संगठन, जल उपभोक्ता संगठन के पास यदि सौर उर्जा संयंत्र (एसपीजी) स्थापित करने के लिए पूंजी नहीं होने पर परियिजना विकसित करने के लिए  किसी विकासकर्ता का चुनाव कर सकते हैं, और अपनी भूमि को लीज पर देकर लीज एग्रीमेंट के आधार पर भूमि का किराया प्राप्त कर सकेंगे। लीज रेंट की राशि किसान और विकासकर्ता के आपसी समझौते पर आधारित होगी।

वित्तीय योग्यता

  • किसान, किसानों का समूह, सहकारी समितियां,पंचायत, किसान उत्पादक संगठन, जल उपभोक्ता संगठन द्वारा स्वयं के निवेश से परियोजना विकसित करने की स्थिति में कोई वित्तीय योग्यता की शर्त नहीं होगी।
  • किसान, किसानों का समूह, सहकारी समितियां,पंचायत, किसान उत्पादक संगठन, जल उपभोक्ता संगठन द्वारा  विकासकर्ता के माध्यम से परियोजना विकसित करने की स्थिति में विकासकर्ता की नेटवर्थ 1 करोड़ रु प्रति मेगावाट होना आवश्यक होगा। विकासकर्ता को चार्टर्ड अकाउंटेंट द्वारा जारि नेटवर्थ सर्टिफिकेट देना होगा।

Kusum Scheme Application Fee  कुसुम योजना आवेदन शुल्क

  • 0.5 मेगावाट सौर उर्जा संयंत्र के लिए आवेदन शुल्क रु 2500+ जी.एस.टी
  • 1 मेगावाट सौर उर्जा संयंत्र के लिए आवेदन शुल्क रु 5000 + जी.एस.टी
  • 1.5 मेगावाट सौर उर्जा संयंत्र के लिए आवेजनरेटर दन शुल्क रु 7500+ जी.एस.टी
  • 2 मेगावाट सौर उर्जा संयंत्र के लिए आवेदन शुल्क रु 10000 + जी.एस.टी
  • आवेदन शुल्क प्रबंध निर्देशक राजस्थान अक्षय उर्जा निगम, जयपुर के पक्ष में डिमांड ड्राफ्ट के रूप में जमा करना होगा।

Security Deposit धरोहर राशि

  • स्वयं की पूँजी से और उर्जा संयंत्र लगाने पर आवेदक / विकासकर्ता को प्रति मेगावाट रु 1,00,000 जमा करनी होगी।
  • सिक्यूरिटी डिपाजिट की राशि प्रबंध निर्देशक राजस्थान अक्षय उर्जा निगम, जयपुर के पक्ष में डिमांड ड्राफ्ट अथवा बैंक गारंटी के रूप में देना होगा। बैंक गारेंटी की वैद्यता कम से कम 6 महीने की होनी चाहिए। धरोहर राशि सफल आवेदकों को पॉवर परचेस एग्रीमेंट (पी पी ए) साइन करने के 15 दिन बाद लौटा दिया जाएगा।

Project Execution Security Fund  प्रोजेक्ट निष्पादन सुरक्षा राशि

  • चयनित एस पी जी (सोलर पॉवर जनरेटर) को सोलर पॉवर संयंत्र लगाने के लिए प्रोजेक्ट निष्पादन सुरक्षा राशि रु 5 लाख प्रति मेगावाट जमा करना होगा।
  • यह राशि प्रबंध निर्देशक राजस्थान अक्षय उर्जा निगम, जयपुर के पक्ष में बैंक गारंटी के रूप में देनी होगी। बैंक गारेंटी की वैद्यता कम से कम 15 महीने की होनी चाहिए। ये राशि प्रोजेक्ट चालू होने के 30 दिन बाद एस पी जी द्वारा पी बी जी को लौटा दिया जाएगा।

Electricity Tariff  बिजली शुल्क दर

  • यदि किसी उर्जा सब स्टेशन के लिए आवेदकों द्वारा आवेदन की गयी कुल क्षमता उस सब स्टेशन के लिए वितरण निगम द्वारा अधिसूचित क्षमता से कम अथवा बराबर होगी। तो सौर उर्जा संयंत्र से उत्पादित बिजली को आर यू वी एन द्वारा राजस्थान विद्युत् विनियामक आयोग द्वारा निर्धारित दर पर ख़रीदा जाएगा।
  • यदि किसी उर्जा सब स्टेशन के लिए आवेदकों द्वारा आवेदन की गयी कुल क्षमता उस सब स्टेशन के लिए वितरण निगम द्वारा अधिसूचित क्षमता से अधिक होगी। तो सौर उर्जा जनरेटर का चयन करने के लिए आर आर ई सी (राजस्थान रिन्यूएबल एनर्जी कारपोरेशन लिमिटेड) द्वारा बोली लगाने की प्रक्रिया का उपयोग किया जाएगा।

KUSUM Yojana Documents  कुसुम योजना दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • भूमि के दस्तावेज़

KUSUM Yojana Aavedan  कुसुम योजना आवेदन

  • इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए Apply for KUSUM Yojana लिंक पर क्लिक करिए।
  • फॉर्म में सभी सूचनाएं भरने के बाद आवश्यक दस्तावेज़ अपलोड करना होगा। आवेदन पत्र सबमिट करने के बाद आवेदन पत्र नंबर को सुरक्षित रखना होगा।
  • आवेदन पत्र भरने के बाद उसका प्रिंट आउट निकाल कर अपने पास रखना आवश्यक है।योजना का लाभ प्राप्त करने की आगे की कार्यवाही में काम आएगी।
  • आप  ई-मित्र केंद्र से भी ऑनलाइन आवेदन करवा सकते है।

योजना के दिशा निर्देश देखने के लिए लिंक पर क्लिक करिए।

अधिक जानकारी के लिए विडियो देखिये For more information watch video below:

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

मप्र आपकी सरकार आपके द्वार योजना

लघु ऋण वित्त योजना

उत्तर प्रदेश किसान आसान क़िस्त योजना

 

 

 

Leave a Reply