Revamped Gold Deposit Scheme रिवैम्पड गोल्ड डिपाजिट स्कीम

R-GDS, Revamped Gold Deposit Scheme, Revamped Gold Deposit Scheme Eligibility, Revamped Gold Deposit Scheme Documents,R-GDS Deposit Term, R-GDS Deposit Terms & Conditions,आर जीडीएस नियम एवं शर्तें,How to invest in R-GDS,आर जीडीएस में निवेश कैसे करें 

SBI RGDS YOJANA PICS

Revamped Gold Deposit Scheme रिवैम्पड गोल्ड डिपाजिट स्कीम

 

भारतीय स्टेट बैंक द्वारा रिवैम्पड गोल्ड डिपाजिट स्कीम की शुरुआत की गयी है। इस योजना के तहत अपने घरों में जमा सोने के आभूषण, सिक्के, सोने के बिस्कुट, गोल्ड बार को बैंक में जमा करके ब्याज से कमाई प्राप्त कर सकते हैं। एसबीआई द्वरा आरजीडीएस योजना शुरू करने का उद्देश्य लोगों के घर में जमा के तौर पर निष्क्रिय पड़े गोल्ड को चलन में लाना है। घरों में निष्क्रिय पड़े सोने के गहने,सिक्के,गोल्ड बार की मार्किट में मूल्य बढ़ती है। पर इससे जमाकर्ता को कोई लाभ प्राप्त नहीं होता है। यदि आप अपने पास जमा स्वर्ण को बैंक की सावधि जमा योजना के अंतर्गत जमा करते हैं। तो इससे आप की जमा स्वर्ण पूंजी से आप ब्याज के रूप में आय प्राप्त कर सकेंगे। इसके अतिरिक्त स्वर्ण के रूप में जमा की गई पूंजी की असुरक्षा की चिंता से भी आप मुक्त रहेंगे। यदि एसबीआई की आर जीडीएस में निवेश करके आप भी लाभ प्राप्त करना चाहते हैं। तो आइये जाने इस लेख के माध्यम से योजना की जानकारी। 

Revamped Gold Deposit Scheme Eligibility रिवैम्पड गोल्ड डिपाजिट स्कीम की पात्रता

  • व्यक्तिगत या संयुक्त खाता खोलकर गोल्ड जमा किया जा सकता है। 
  • कोई भी पार्टनरशिप या प्रोपराईटरशिप फर्म।
  •  ट्रस्ट एवं म्यूच्यूअल फण्ड /एक्सचेंज ट्रेड्स सेबी (भारतीय प्रतिभूति विनिमय बोर्ड) में रजिस्टर्ड हों। 
  • कोई भी सरकारी या निजी कंपनी। 
  • हिन्दू अविभाजित परिवार (HUFS)।

Revamped Gold Deposit Scheme Documents  रिवैम्पड गोल्ड डिपाजिट स्कीम दस्तावेज़ 

  • पहचान प्रमाण पत्र 
  • निवास प्रमाण पत्र 
  • जमा कर्ता की रंगीन फोटो 

R-GDS Deposit Term  आर जीडीएस में निवेश की अवधि 

योजना के तहत तीन विकल्पों के अंतर्गत गोल्ड जमा करके ब्याज कमाया जा सकता है

शोर्ट टर्म बैंक डिपाजिट (STBD) – इस विकल्प के अंतर्गत 1-3 वर्ष के लिए गोल्ड डिपाजिट किया जा सकता है। इस विकल्प के अंतर्गत डिपाजिट करने पर निम्न प्रकार से ब्यज की राशि प्राप्त होगी

  • 1 वर्ष के डिपाजिट पर ब्याज  0.50% p/a
  • 1-2 वर्ष के डिपाजिट पर ब्याज  0.55 % p/a
  • 2-3 वर्ष के डिपाजिट पर ब्याज  0.60% p/a

मीडियम टर्म गवर्मेंट डिपाजिट (MTGD) – इस विकल्प के अंतर्गत 5-7 वर्ष के लिए गोल्ड डिपाजिट किया जा सकता है। इस विकल्प के अंतर्गत डिपाजिट करने पर 2.25 % p/a की दर से ब्याज प्राप्त होगी। 

लॉन्ग टर्म गवर्मेंट डिपाजिट (LTGD)- इस विकल्प के अंतर्गत 12- 15 वर्ष के लिए गोल्ड डिपाजिट किया जा सकता है। इस विकल्प के अंतर्गत डिपाजिट करने पर 2.50 % p/a की दर से ब्याज प्राप्त होगी। 

R-GDS Deposit Terms & Conditions    आर जीडीएस नियम एवं शर्तें 

  • न्यनतम 30 ग्राम गोल्ड जमा किया जा सकता है और अधिकतम गोल्ड जमा करने की कोई सीमा नहीं है। 
  • सोने के आभूषण में कोई दूसरी धातु या स्टोन नही जड़ा होना चाहिए। 
  • सोना आभूषण, सोने के सिक्के, सोने के बिस्कुट आदि किसी भी रूप में जमा किया जा सकेगा। 

How to invest in R-GDS  आर जीडीएस में निवेश कैसे करें 

  • स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा देश भर में अपने सात एसबीआई की शाखा में रिवैम्पड गोल्ड डिपाजिट स्कीम शुरू किया गया है। 
  • इस योजना में पैसा जमा करने के लिए एसबीआई बैंक से इन्वेंटरी फॉर्म प्राप्त करना होगा। 
  • इस फॉर्म में अपने गोल्ड के अमाउंट से सम्बंधित सूचि को भरना होगा। इसके बाद नाम,पता आधार कार्ड एवं पैन कार्ड नंबर आदि सूचनाएं भरनी होगी। 
  • इसके बाद फॉर्म के साथ आवश्यक दस्तावेज़ संलग्न करके बैंक में जमा करना होगा। 
  • फिर आपके नाम से बैंक लाकर जारि कर दिया जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए विडियो देखिये For more information watch video below:

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

राजस्थान ज्ञान संकल्प पोर्टल

राष्ट्रीय युवा संसद योजना 2020

राष्ट्रिय शिक्षुता प्रशिक्षण योजना

 

 

 

6 Comments

  1. cbd oil that works 2020 June 28, 2020
  2. tinyurl.com June 27, 2020
  3. www.ai4children.org June 26, 2020
  4. because g June 20, 2020

Leave a Reply