Post Office Franchise Scheme पोस्ट ऑफिस की फ्रैंचाइज़ी योजना

Post Office Franchise, पोस्ट ऑफिस, डाक विभाग फ्रैंचाइज़ी योजना, Franchise business, business idea,Franchise Scheme, Franchise Eligibility, Franchise outlet services, income from Post Office franchise,Application Documents, franchise Application form,Franchise Criteria, kendriya yojana

 

post office franchise scheme pics

Post Office Franchise Scheme पोस्ट ऑफिस की फ्रैंचाइज़ी योजना

दोस्तों यदि आप बेरोजगार हैं, और अपना बिजनेस शुरू करना चाहते हैं। किन्तु आपके पास बिजनेस में निवेश करने के लिए ज्यादा पैसा नहीं है। जसकी वजह से आप बिजनेस में होने वाले उतार -चढ़ाव के जोखिम को उठाने में समर्थ नहीं हैं। इसके अतिरिक्त आप ज्यादा पढ़े -लिखे भी नहीं हैं। तो निराश होने की जरुरत नहीं है। आपके पास पोस्ट ऑफिस की फ्रैंचाइज़ी लेकर  अपना बिजनेस शुरू करने का सुनहरा अवसर है। पोस्टऑफिस की फ्रैंचाइज़ी केवल रु 5,000 के निवेश से भी शुरू की जा सकती है। इसके लिए न्यूनतम शैक्षिक योग्यता कक्षा 8 पास होना अनिवार्य है। इसके अतिरिक्त इस बिजनेस को शुरू करने पर आप पहले दिन से हीं कमाना शुरू कर सकते हैं। आपको केवल पोस्ट ऑफिस में उपलब्ध प्रोडक्ट्स की सेवा कस्टमर्स को देनी होगी। इन प्रोडक्ट्स पर कमिशन का प्रतिशत फिक्स्ड होता है। कमीशन की ये राशि फ्रैंचाइज़ी लेते वक्त एग्रीमेंट में निश्चित कर दी जाती है।

दोस्तों भारतीय डाक विभाग देश भर में डाक की आधारभूत सुविधा पहुँचाने के उद्देश्य से पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी बिजनेस शुरू करने का अवसर प्रदान कर रही है। हमारे देश में कुल  पोस्ट ऑफिस की संख्या 1.55 लाख है। जिसमें से लगभग 89 प्रतिशत डाक घर ग्रामीण इलाके में है। इसके बावजूद देश में पोस्ट ऑफिस की मांग बनी हुयी है। इसके लिए भारतीय डाक विभाग डाक  सेवाओं का विस्तार फ्रैंचाइज़ी आउटलेट के माध्यम से करना चाहती है। इसके लिए  नागरिकों को फ्रैंचाइज़ी आउटलेट खोलकर बिजनेस शुरू करने का अवसर प्रदान करती है। तो आइये जाने पोस्ट ऑफिस की फ्रैंचाइज़ी आउटलेट कैसे खोली जा सकती है ?

Post Office Franchise Eligibility  पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी के लिए पात्रता 

  • आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • आवेदक को न्यूनतम 8 वीं कक्षा पास होना अनिवार्य है।
  • छोटे कारोबारी जैसे – पान वाला, किराने की दूकान वाले, शौपिंग मॉल आदि।
  • भारत का कोई भी नागरिक, संस्था, संघठन, स्पेशल इकोनॉमिक्स जोन, इंडस्ट्रियल सेण्टर, शहरी टाउनशिप, पोलिटेक्निक, युनिवर्सिटी, प्रोफेशनल कॉलेज आदि।
  • पोस्ट ऑफिस के रिटायर्ड कर्मचारी को फ्रैंचाइज़ी प्रदान करने में प्राथमिकता दी जायेगी। डाक विभाग में कार्यरत कर्मचारी पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी नहीं ले  सकेंगे।
  • डाक विभाग के कर्मचारी जिस डिवीज़न में कार्यरत होंगे। उस क्षेत्र में उन पर आश्रित परिवार के सदस्य जैसे – माँ-पिता, बेटा-बेटी, पत्नी फ्रैंचाइज़ी आउटलेट नहीं प्राप्त कर सकेंगे।

Franchise outlet services फ्रैंचाइज़ी आउटलेट की सेवाएँ 

भारतीय डाक विभाग फ्रैंचाइज़ी आउटलेट के द्वारा डाक सेवाओं की सुविधा प्रदान करता है। किन्तु डाक की डिलीवरी और ट्रांसमिशन का कार्य डाक विभाग करता है। इसकेअतिरिक्त पोस्ट ऑफिस में मिलने वाली प्रोडक्ट्स जैसे –  पोस्टल स्टाम्प और स्टेशनरी, रजिस्टर्ड आर्टिकल्स आदि की बिक्री पोस्टल एजेंट के रूप में करना होता है। फ्रैंचाइज़ी आउटलेट लेने वाले को निम्न सेवाएँ एवं प्रोडक्ट्स की बिक्री करनी होती है –

  • फ्रैंचाइज़ी आउटलेट में पोस्टल लाइफ इश्योरेंस (PLI) की बिक्री एवं बिमा के प्रीमियम जमा करने का काम करना होगा।
  • पोस्टल स्टाम्प और स्टेशनरी की बिक्री।
  • ई -गवर्नेंस और सिटिजन सेंट्रिक सर्विस जैसे – बिल/ टैक्स /जुर्माने का कलेक्शन और पेमेंट का कार्य करना होगा।
  • स्पीड पोस्ट आर्टिकल, रजिस्टर्ड आर्टिकल मनी आर्डर की बुकिंग का कार्य करना होगा।  किन्तु रु 100 से कम का मनी आर्डर नहीं बुक करना होगा।
  • डाक विभाग से जुड़ी एजेंसियों के प्रोडक्ट की मार्केटिंग एवं सेवाओं को नागरिकों तक पहुँचाने का कार्य डाक विभाग के एजेंट के रूप में करना होगा।

income from Post Office franchise   पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी से कमाई 

फ्रैंचाइज़ी आउटलेट द्वारा पोस्टल प्रोडक्ट एवं सेवाओं को नागरिकों तक पहुंचाने पर डाक विभाग द्वारा फ्रैंचाइज़ी के मालिक को कमिशन दिया जाता है। कमिशन की ये राशि डाक विभाग द्वारा तय की जाती है। इसके लिए फ्रैंचाइज़ी लेते वक्त MOU (मेमोरंडम ऑफ़ एग्रीमेंट) साइन करना होता है। यही कमिशन की राशि फ्रैंचाइज़ी से प्राप्त कमाई होती है। विभिन्न प्रोडक्ट एवं सेवाओं पर मिलने वाली कमिशन की राशि इस प्रकार है :-

  • प्रति स्पीड पोस्ट आर्टिकल की बुकिंग पर कमिशन की राशि रु 5 है।
  • प्रत्येक  रु 200 से ज्यादा के मनी आर्डर पर रु 5 कमिशन मिलती है।
  • रु 100-200 के मनी आर्डर पर कमिशन की राशि रु 3.50 है।
  • पोस्टल स्टेशनरी, पोस्टल स्टाम्प और मनी आर्डर फॉर्म की बिक्री पर सेल अमाउंट का 5 प्रतिशत कमिशन प्राप्त होता है।
  • सेन्ट्रल रिक्रूटमेंट फी स्टाम्प, रेवेन्यु स्टाम्प की बिक्री एवं आउटलेट द्वारा रिटेल सर्विस आदि से प्राप्त हुए कुल कमाई का 40% कमिशन प्राप्त होता है।
  • प्रत्येक महीने एक हज़ार से ज्यादा स्पीड पोस्ट और रजिस्टरी की बुकिंग पर 20% कमिशन प्राप्त होती है।

Franchise Application Documents   फ्रैंचाइज़ी आवेदन के दस्तावेज़ 

  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र
  • फ्रैंचाइज़ी आउटलेट के एड्रेस का प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र
  • पैन कार्ड की फोटोकॉपी
  • आधार कार्ड की फोटोकॉपी
  • यदि डाक विभाग से सेवानिवृत हैं तो  पेसन पेमेंट आर्डर (ppo) की फोटोकॉपी

Franchise Application  फ्रैंचाइज़ी आवेदन 

  • पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी प्राप्त करने के लिए फ्रैंचाइज़ी एप्लीकेशन फॉर्म एवं एग्रीमेंट फॉर्म आप ऑनलाइन डाउनलोड कर भर सकते हैं।
  • इसके अतिरिक्त फ्रैंचाइज़ी का आवेदन फॉर्म आपने क्षेत्र के पोस्ट ऑफिस से भी प्राप्त किया जा सकता है।
  • आवेदन फॉर्म एवं एग्रीमेंट फॉर्म  भरने के बाद सभी आवश्यक दस्तावेज़ संलग्न करना होगा।
  • इसके बाद अपने क्षेत्र के डाक विभाग कार्यालय में जमा करना होगा।
  • फ्रैंचाइज़ी के लिए चयन सम्बंधित डाक विभाग के डिवीज़न अधिकारी द्वारा किया जाएगा।
  • फॉर्म जमा करने के 14 दिनों के अन्दर आपको डाक विभाग द्वारा फ्रैंचाइज़ी के लिये चयनित होने की जानकारी प्राप्त हो जायेगी।
  • इसके बाद लाइसेंस प्राप्त करने और आउटलेट में सेवाएँ प्रदान करने की प्रक्रिया के लिए सम्बंधित डाक विभाग के सीनियर अधिकारी से संपर्क करना होगा।

Franchise Security Deposit  फ्रैंचाइज़ी सिक्यूरिटी डिपाजिट

  • फ्रैंचाइज़ी की सिक्यूरिटी डिपाजिट मनी न्यूनतम रु 5,000 है। ये राशि आउटलेट से प्रतिदिन प्राप्त जोने वाली वित्तीय लेन-देन के आधार निर्धारित की जाती है।
  • इस आधार पर प्रतिदिन होने वाली आउटलेट के रेवेन्यू के आधार पर बाद में सिक्यूरिटी डिपाजिट की राशि बढ़ाई जा सकती है।
  • सिक्यूरिटी डिपाजिट की राशि नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC) के रूप में जमा करना होता है।

Franchise Training & Award  फ्रैंचाइज़ी ट्रेनिंग और अवार्ड 

  • फ्रैंचाइज़ी से सम्बंधित ट्रेनिंग पोस्ट ऑफिस की और से सम्बंधित क्षेत्र के सब -डिवीज़नल इंस्पेक्टर द्वारा प्रदान की जायेगी।
  • आउटलेट में यदि फ्रैंचाइज़ी पॉइंट ऑफ़ सेल्स सॉफ्टवेर का प्रयोग किया जाता है। तो ऐसे फ्रैंचाइज़ी आउटलेट को बार कोड स्टीकर प्रदान किया जाता है।
  • ज्यादा रेवेन्यू जेनरेट करने वाले सेण्टर को अवार्ड भी प्रदान किया जाता है।

Franchise Criteria  फ्रैंचाइज़ी जारि रखने की शर्ते 

  • फ्रेंचाइजी जारी रखने के लिए प्रत्येक महीने आउटलेट को रु 50,000 रेवेन्यू जेनरेट करना आवश्यक होता है। फ्रैंचाइज़ी जारी रखने का फैसला आउटलेट द्वारा रेवेन्यू जेनरेट के आधार पर किया जाता है।
  • डाक विभाग द्वारा प्रत्येक महीने आउटलेट की रेवेन्यू को चेक किया जाता है।
  • इसके अतिरिक्त फ्रैंचाइज़ी जारी रखने के लिए पहली समीक्षा  (रिव्यू) आउटलेट खुलने के 6 महीने बाद लिया जाता है। इसके बाद फाइनल रिव्यू नेक्स्ट 6 महीने के बाद यानी आउटलेट खुलने के एक वर्ष बाद किया जाता है। रिव्यू के आधार पर तय किया जाता है कि फ्रैंचाइज़ी जारी रहेगा या नहीं।

पोस्ट ऑफिस फ्रैंचाइज़ी बिजनेस की अधिक जानकारी के लिए फ्रैंचाइज़ी पीडीऍफ़  लिंक पर क्लिक करिए।

अधिक जानकारी के लिए विडियो देखिये For more information watch video below:

>

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

सीईआईआर वेबपोर्टल चोरी / गुम मोबाइलों का पता लगाएगा

मोदी सरकार की मिशन एप्पल योजना

नयी ट्रैफिक रूल्स 2019

 

 

 

;

 

Leave a Reply