MP Free Residential Plot online Application मध्य प्रदेश फ़्री आवासीय प्लॉट ऑनलाइन आवेदन

Free Residential Plot, फ़्री आवासीय प्लॉट,मुख्यमंत्री फ़्री आवासीय प्लॉट ऑनलाइन आवेदन, free avasiya bhukhand yojana, free avasiya plot aavedan ki patrta, free avasiya plot yojana kya hai, free avasiya plot aavedan prakriya, free residential plot application process, mp govt scheme, mukhyamantri yojana, pradhanmantri yojana, sarkari yojana, garib yojana, antyodya yojana

 

saara, mp

MP Free Residential Plot online Application मध्य प्रदेश फ़्री आवासीय प्लॉट ऑनलाइन आवेदन

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रदेश के ग़रीब बेघर परिवारों को रहने के लिए आवासीय भूखंड उपलब्ध करवाने की योजना का संचालन किया गया है।योजना के तहत बेघर परिवारों को राज्य सरकार की तरफ़ से निशुल्क आवासीय भूखंड आवंटित किया जाएगा। सरकार आवासीय पट्टा जारी करेगी जिससे भूखंड का पट्टा होने पर परिवार को आवास बनाने के लिए प्रधानमंत्री आवासीय योजना के अंतर्गत बैंक लोन मिल सकेगा।मुख्यमंत्री आवासीय -भूखंड योजना के तहत प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र में फ़्री आवासीय -भूखंड हेतु आवेदन शुरू कर दिया गया है।फ़्री आवासीय प्लॉट के लिए आवेदक का नाम उस क्षेत्र की मतदाता सूची में दर्ज होना आवश्यक है। आइए जाने योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया की जानकारी।

MP Free Residential Plot Scheme kya hai  मध्य प्रदेश फ़्री आवासीय प्लॉट योजना क्या है 

फ़्री आवासीय प्लॉट योजना प्रधानमंत्री मोदी के मिशन ‘सबके लिए आवास’ योजना को पूरा करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा लिया गया एक  एतिहासिक निर्णय है। योजना के तहत ग़रीब बेघर परिवारों को जीवनयापन के लिए फ़्री आवासीय प्लॉट उपलब्ध करवाना है।परिवार से आशय है पति -पत्नी और अविवाहित बेटा -बेटी से है।योजना के तहत अधिकतम 60 वर्ग मीटर का प्लॉट आवंटित किया जाएगा।लाभार्थी परिवार के नाम वितरित की जाने वाले आवासीय प्लॉट के भूस्वामी  अधिकार पत्र पति -पत्नी के संयुक्त नाम पर होगा।मध्य प्रदेश सरकार द्वारा योजना के तहत पट्टे पर आवासीय प्लॉट आवंटित किया जाएगा।

MP Free Residential Plot Application Eligibility  मध्य प्रदेश फ़्री आवासीय प्लॉट आवेदन की पात्रता 

  • मध्य प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र के निवासी हो।
  • जिस ग्रामीण क्षेत्र में फ़्री आवासीय -भूखंड के लिए आवेदन किया जा रहा हो, आवेदक परिवार का दिनांक 1 जनवरी 2021 तक की मतदाता सूची में नाम दर्ज होना आवश्यक है।
  • आवेदक परिवार के नाम से 5 एकड़ से कम क़रिशी भूमि हो।
  • आवेदक परिवार के पास स्वतंत्र रूप से रहने के लिए मकान नहीं होना चाहिए।
  • परिवार का कोई भी सदस्य आयकर दाता नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक परिवार का कोई भी सदस्य शासकीय सेवा में कार्यरत या सेवनिवृत नहीं होना चाहिए।
  • सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पी. डी. एस.) से राशन प्राप्त काने की पात्रता पर्ची धारक परिवार होना अनिवार्य है।

MP Free Residential Plot online Application Process  मध्य प्रदेश फ़्री आवासीय प्लॉट ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 

  • योजना में आवेदन करने के लिए ऑनलाइन स्मार्ट ऐप्लिकेशन फ़ॉर रेवेन्यू एडमिनिस्ट्रेशन, मध्य प्रदेश पोर्टल लिंक पर क्लिक करें।
  • इसके बाद ग्रामीण आबादी भूमि पर भूस्वमी अधिकार प्राप्त करने के लिए आवेदन फ़ॉर्म को भरना होगा।
  • इसके बाद प्राप्त आवेदन की पात्रता की जाँच सम्बंधित ग्राम पंचायत के पटवारी एवं सचिव के द्वारा की जाएगी।
  • जाँच रिपोर्ट के आधार आवेदकों के पात्रता एवं अपात्रता की सूची तैयार की जाएगी।
  • योजना के पात्रता – आपात्रता की ग्राम पंचायतवार सूची को सम्बंधित ग्राम निवासियों से आपत्तियों या सुझाव आमंत्रित किए जाने के उद्देश्य से प्रकाशित की जाएगी।
  • आवेदक परिवारों की पात्रता -अपात्रता सूची को ग्राम चौपाल, थाना, कचहरी आदि सार्वजनिक स्थलों तथा ग्राम पंचायत के कार्यालयों चस्पाँ की जाएगी।
  • इसके बाद तहसीलदार सूची में निर्धारित तारीख़ एवं स्थान पर पात्रता -अपात्रता से सम्बंधित सुझाव एवं आपत्तियों का परीक्षण करने के बाद पुनः योजना के पात्र आवेदकों की सूची तैयार करेगा।
  • इसके बाद तहसीलदार पात्र आवेदकों के नाम की सूची सम्बंधित ग्राम पंचायत को अनुमोदन के लिए भेजेगा।
  • आवेदकों से सम्बंधित ग्राम पंचायत द्वारा अनुमोदित नाम की सूची के आधार पर तहसीलदार द्वारा भूमि आवंटन का आदेश जारी किया जाएगा।

मध्य प्रदेश फ़्री आवासीय प्लॉट योजना की आधिकारिक वेबसाइट लिंक

अधिक जानकारी के लिए विडियो देखिये For more information watch video below:

अन्य योजनाएँ पढ़िए हिंदी में :

उत्तर प्रदेश किसान आसान किस्त योजना 2022

राजीव गाँधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मज़दूर न्याय योजना

पीएम किसान की किस्त बिना ई-केवाईसी करवाए बैंक खाते में नहीं आएगी