Himachal Pradesh Pushp kranti Yojana हिमाचल प्रदेश पुष्प क्रान्ति योजना

pushp kranti yojana, himachal pradesh yojana, pushp kranti yojana documents, pushp kranti yojana guidelines, pushp kranti yojana ke labh, pushp kranti yojana aavedan, pushp kranti yojana eligibility, horticulture pariyojana, bagwani yojana, kisan yojana, mukhyamantri yojana, kendriya yojana, sarkari yojana

pushp kranti yojana pics

Himachal Pradesh Pushp kranti Yojana हिमाचल प्रदेश पुष्प क्रान्ति योजना

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा प्रदेश में फूलों की खेती को प्रोत्साहित करने के लिए पुष्प क्रान्ति योजना की शुरुआत की गयी है। इस योजना के लिए रु 150 करोड़ की पंचवर्षीय योजना के रूप में प्रदेश में लागू किया गया है। पुष्प क्रांति योजना का संचालन हिमाचल प्रदेश की बागवानी विभाग को सौंपा गया है। प्रदेश की जलवायु फूलों के उत्पादन की दृष्टि उपयुक्त है। जिसका लाभ उठाकर किसान कम भूमि में भी फूलों की खेती करके ज्यादा मुनाफा कमा सकते हैं। इन्ही संभावनाओं को देखते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर हिमाचल को फूलों के राज्य के रूप में विकसित करना चाहते हैं।

योजना के तहत वर्ष भर उच्च मूल्य वाले फूलों की संरक्षित खेती करने के लिए पालीहाउस तकनीक का प्रशिक्षण कृषकों को दिया जाता है। इसके अतिरिक्त ग्रीन हाउस, शेड  नेट हाउस आदि विधियों को अपना कर फूलों की खेती करने को प्रोत्साहित किया जाता है। जिससे किसान राष्ट्रिय और अन्तराष्ट्रीय मंडी के माँग के अनुसार विदेशी फूलों का उत्पादन करने में सक्षम हो सके। युवाओं को फूलों की खेती के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से फूल परिवहन के लिए बस के किराए और आवारा पशुओं से खेत को सुरक्षित रखने के लिए सोलर बाड़ लगाने की लागत पर भी सब्सिडी प्रादान की जाती है। आइये जाने योजना में आवेदन की जानकारी।

Himachal Pushp kranti Yojana Benefits हिमाचल पुष्प क्रान्ति योजना के लाभ 

  • पुष्प क्रान्ति योजना के तहत किसानों को पालीहाउस तकनीक, ग्रीन हाउस, शेड नेट आदि के प्रयोग से खेती करने का प्रशिक्षण उपलब्ध होगा।
  • पालीहाउस तकनीक के प्रयोग से किसान वर्ष भर संरक्षित खेती करके उच्च कीमत वाले फूलों की खेती करके ज्यादा लाभ कमा सकेंगे। इसके अतिरिक्त इस विधि के प्रयोग से कम भूमि में ज्यादा फूलों का उत्पादन करने में किसान सक्षम हो सकेंगे।
  • योजना के तहत फूलों की खेती को जंगली जानवरों से होने वाले नुकसान से सुरक्षित करने के लिए सोलर बाड़ लगाने के लिए 85% सब्सिडी का लाभ प्राप्त होगा।
  • फूलों के उत्पादन के बाद मार्केटिंग के लिए बस परिवहन के किराए में 25% छूट प्रदान की जायेगी।
  • पालीहाउस तकनीक से उच्च कीमत वाली फूलों की खेती के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त होगी।

Himachal Pradesh Pushp kranti Yojana Eligibility   हिमाचल पुष्प क्रान्ति योजना की पात्रता 

  • किसान को हिमाचल प्रदेश का मूल निवासी होना आवश्यक है।
  • योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए पालीहाउस तकनीक के प्रयोग से फूल उत्पादन के लिए ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • किसान को अधिकतम 4000 वर्ग मीटर क्षेत्र में बागवानी के प्रत्साहन राशि का लाभ प्राप्त होगा।
  • लीज पर ली गयी भूमि के लिए प्रोत्साहन राशि प्राप्त करने के लिए लीज न्यूनतम 10 वर्षों के लिए होना आवश्यक है।

Himachal Pradesh Pushp kranti Yojana Aavedan Documents   हिमाचल पुष्प क्रान्ति योजना आवेदन के दस्तावेज़ 

  • आधार कार्ड 
  • बगीचे का एड्रेस प्रूफ
  • कृषि भूमि के दस्तावेज़ के प्रमाण के तौर पर किसान पासबुक / जमाबन्दी / ततीमा प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक की फोटोकॉपी

Himachal Pradesh Pushp kranti Yojana Aavedan  हिमाचल प्रदेश पुष्प क्रान्ति योजना आवेद

  • पुष्प क्रांति योजना में आवेदन के लिए ऑनलाइन फॉर्म डाउनलोड लिंक पर क्लिक करिए।
  • फॉर्म को भरने के बाद आवश्यक दस्तावेज़ एवं शपथ पत्र संलग्न करना होगा।
  • इसके बाद अपने जिले के हॉर्टिकल्चर एक्सटेंशन ऑफिसर कार्यालय में जमा करना होगा।
  • इसके अतिरिक्त योजना का लाभ ल प्राप्त करने के लिए अपने क्षेत्र के बागवानी निर्देशक से संपर्क कर सकते हैं।

योजना से सम्बंधित दिशा निर्देश की जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करिए।

अधिक जानकारी के लिए विडियो देखिये For more information watch video below:

 

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

मर्चेंट नेवी में करियर के विकल्प

फार्मासिस्ट खोल सकेंगे फार्मा क्लिनि

जैविक खेती पोर्टल रजिस्ट्रेशन

 

 

 

Leave a Reply