मध्य प्रदेश शाला सिद्धि प्रोत्साहन पुरस्कार योजना (MP Shaala Siddhi Protsahan Puraskar Yojana)

MP Shala Siddhi Protsahan Puraskar Yojana ke Labh, MP Shala Siddhi Protsahan Puraskar Yojana ka Uddeshya, MP Shala Siddhi Protsahan Puraskar Yojana ka kriyanvayn, MP Shaala Siddhi Protsahan Puraskar Yojana, मध्य प्रदेश शाला सिद्धि प्रोत्साहन पुरस्कार योजना, शाला सिद्धि प्रोत्साहन पुरस्कार योजना,

मध्य प्रदेश शाला सिद्धि प्रोत्साहन पुरस्कार योजना  pic

मध्य प्रदेश शाला सिद्धि प्रोत्साहन पुरस्कार योजना (MP Shaala Siddhi Protsahan Puraskar Yojana)

मध्य प्रदेश के शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित “हमारी शाळा ऐसी हो” कार्यक्रम के अंतर्गत सरकारी पाठशालाओं में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को भयमुक्त वातावरण एवं विद्यार्थियों की प्रतिभा का विकास उनके उम्र एवं कक्षा के स्तर के अनुसार निरंतर होते रहने के उद्देश्य से शिक्षकों के प्रयत्न को प्रोत्साहन देने हेतु शाळा सिद्धि प्रोत्साहन पुरस्कार योजना का शुरुआत वर्ष 2017 में किया गया है। आइये जाने इस लेख के माध्यम से योजना की पूरी जानकारी।

म.प्र. शाला सिद्धि प्रोत्साहन पुरस्कृत योजना का उद्देश्य (MP Shala Siddhi Protsahan Puraskar Yojana ka Uddeshya)

  • योजना के तहत प्रदेश के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को पाठशाला में कक्षा के अन्दर भयमुक्त वातावरण  एवं विषयों को सीखने की प्रक्रिया को रुचिकर बनाने के क्रम में शिक्षकों के प्रयास को प्रोत्साहित करना है।
  • योजना के उद्देश्य की पूर्ति के लिए प्रथम चरण में राज्य के लगभग 25,000 प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक स्कूलों में शाला सिद्धि प्रोत्साहन योजना लागू की गई है।
  • कार्यक्रम के अंतर्गत शिक्षकों द्वारा अपनी शाला में विद्यार्थियों के बीच शिक्षा की प्रतिस्पर्धा के स्वास्थ्य वातावरण का निर्माण, अच्छे प्रयासों को पुरस्कृत करना आदि के मूल्यांकन के आधार पर शाळा में शिक्षा की गुणवत्ता के स्तर में सुधार के लक्ष्य को प्राप्त करना है।

म.प्र. शाला सिद्धि प्रोत्साहन पुरूस्कार योजना का क्रियान्वयन (MP Shala Siddhi Protsahan Puraskar Yojana ka kriyanvayn)

  • योजना के तहत सभी जिलों के शालाओं में शाला सिद्धि कार्यक्रम के क्रियान्वयन हेतु जिला कोर समिति द्वारा विकास खंड चयन समिति का गठन किया गया है।
  • इन समितियों के चयन के आधार पर शालाओं के संकुल प्राचार्य को आवेदन हेतु आमंत्रण भेजा जाएगा।
  • इसके बाद चयनित संकुल प्राचार्य इस आवेदन की पुष्टि करने के उपरान्त आवेदन फॉर्म को विकास खंड कार्यालय को भेजेंगे।
  • विकास खंड समिति द्वारा प्रत्येक जिले से 3 प्राथमिक एवं 3 माध्यमिक विद्यालयों के नाम पुरस्कार के लिए डिस्ट्रिक्ट इंस्टिट्यूट फॉर एजुकेशन एंड ट्रेनिंग (DIET) को भेजेगी।
  • फिर जिला स्तर पर गठित समिति द्वारा 3 प्राथमिक और 3 माध्यमिक शालाओं का चयन पुरस्कार हेतु किया जाएगा जिन्हें जिला मुख्यालय में आयोजित शिक्षक दिवस के अवसर पर पुरस्कृत किया जाएगा।

म.प्र. शाला सिद्धि प्रोत्साहन पुरूस्कार योजना के लाभ (MP Shala Siddhi Protsahan Puraskar Yojana ke Labh)

  • योजना के तहत सरकारी शालाओं के शिक्षको को पुरस्कृत किये जाने से शिक्षक अपनी शाला की गुणवत्ता में निरंतर सुधार करने के लिए प्रोत्साहित होंगे।
  • योजना से प्रदेश के सरकारी शाळा में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की पढ़ाई में रूचि उत्पन्न होगी एवं स्कूल जाने को प्रोत्साहित होंगे।
  • सरकारी स्कूलों के शिक्षक विद्यार्थियों के लिए शिक्षा को रुचिकर बनाने की दिशा में नए प्रयोग करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। जिससे सरकारी स्कूलों की शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा।

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

म.प्र. पत्रकार स्वास्थ्य एवं दुर्घटना समूह बीमा योजना 

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री नि:शक्तजन शिक्षा प्रोत्साहन योजना 2018 

मध्य प्रदेश स्पर्श अभियान: नि:शक्तजन विवाह प्रोत्साहन योजना 

 

 

Comments

comments

Leave a Reply