MP Mukhyamantri ki Hum choo lenge Aasman Yojana । म. प्र. मुख्यमंत्री की हम छू लेंगे आसमान योजना

MP Mukhyamantri ki Hum choo lenge Aasman Yojana, हम छू लेंगे आसमान योजना के लिए नामांकन, Hum choo lenge Aasman Yojana ka kriyanvayan, Hum choo Lenge Aasman Yojana ki visheshtayen

 yojana image

MP Mukhyamantri ki Hum choo lenge Aasman Yojana । म. प्र. मुख्यमंत्री की हम छू लेंगे

आसमान योजना

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा अपने  राज्य एवं देश  के भविष्य विद्यार्थियों को अकादमिक काउंसिलिंग के माध्यम से विषयों को चुनने में मदद करने के हेतु एक नयी और महत्वपूर्ण पहल करने की दिशा में  हम छू लेंगे आसमान योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना को प्रदेश के भोपाल जिले के मॉडल स्कूल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा 21 मई 2018 को लांच किया गया है।  योजना का उद्देश्य  राज्य के 12 वीं पास विद्यार्थियों के शिक्षा एवं रोज़गार से सम्बंधित मार्गदर्शन हेतु  प्रत्येक जिले में विशेषज्ञों की नियुक्ति करना है। ताकि ग्रामीण क्षेत्रो के 12 वीं पास होनहार छात्र- छात्राओं को करियर के विकल्पों के आधार पर  विषयों को चुनने  में मार्गदर्शन प्राप्त हो सके जिससे देश एवं समाज के उत्थान में अपना योगदान प्रदान करने में सक्षम बन सकें।

योजना के तहत 10 वीं कक्षा पास करने के पश्चात 11वीं एवं 12 वीं कक्षा पास करने में विफल रहे छात्रों के लिए स्किल डेवलपमेंट हेतु दिशा निर्देश एवं  मार्गदशन दिया जाएगा। इन दोनों वर्गों के छात्रों के काउंसलिंग,  तकनिकी कौशल एवं शिक्षा से सम्बंधित  मार्गदर्शन के लिएअलग-अलग  समय-सीमा का निर्धारण किया गया है। तो आइये जाने इस लेख के माध्यम से इस योजना की जानकारी।

हम छू लेंगे आसमान योजना की विशेषताएं (Hum choo Lenge Aasman Yojana ki visheshtayen):

  • योजना के तहत 12वीं कक्षा में 70% या उससे अधिक अंक प्राप्त विद्यार्थियों को विशेषज्ञों द्वारा अकादमिक एवं करियर के विकल्पों से सम्बंधित विशेष मार्गदर्शन की सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी।
  • कक्षा 11वीं एवं 12 वीं में असफल रहे विद्यार्थियों के लिए स्वरोजगार , कौशल विकास हेतु ट्रेनिंग आदि के लिए भी विशेषज्ञों द्वारा मार्गदर्शन की सुविधा प्रदान की जायेगी।
  • योजना के तहत करियर विकल्पों , स्वरोज़गार एवं कौशल विकास से सम्बंधित मार्गदर्शन हेतु दिशा निर्देश प्रदेश के सभी जिले के उत्कृष्ट विद्यालयों  एवं उच्च शिक्षा केंद्र के विशेषज्ञों द्वारा ऑफलाइन सेवा  मुहैया कराया जायेगा। इसके अतिरिक्त ऑनलाइन भी मार्गदर्शन की सुविधा प्रदान की जायेगी।
  • योजना से सम्बंधित किसी भी प्रकार की जानकारी एवं विद्यार्थियों की शंकाओं के निवारण हेतु सीएम हेल्पलाइन नंबर- 0755-2770020 जारि किया गया है। कोई भी छात्र/छात्रा सुबह 10 बजे से 11 बजे तक मुख्यमंत्री से फोन पर बात कर अपनी समस्याओं का निवारण कर सकते हैं।
  • हम छू लेंगे आसमान योजना के अंतर्गत एक उपयोजना विक्रमादित्य योजना की शुरुआत की गयी है। इसका उद्देश्य 12 वीं में 60% या उससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले मेधावी छात्र /छात्राओं के लिए स्नातक की उच्च शिक्षा निशुल्क प्रदान किये जाने का प्रावधान किया गया है। इस सुविधा का लाभ गरीबी रेखा से नीचे के मेधावी छात्र /छात्राओं के लिए है जिनके परिवार की वार्षिक आय रूपए 54,000 से कम हो।

हम छू लेंगे आसमान योजना का क्रियान्वयन (Hum choo lenge Aasman Yojana ka kriyanvayan):

इस योजना का क्रियान्वयन तीन चरणों में किया जाएगा :

  • पहले चरण में 12 वीं कक्षा में 70% से अधिक अंक प्राप्त छात्र/छात्राओं के  मार्गदशन हेतु दिशा निर्देश दिए जायेंगे इसकी समय सीमा 21 मई 2018 से 31 मई 2018 तय की गई है।
  • दूसरे चरण में 70 % से कम अंक प्राप्त करने वाले छात्र/छात्राओं के मार्गदर्शन हेतु दिशा निर्देश की समय सीमा 4 जून 2018 से 14 जून 2018 तय की गई है।
  • तीसरे चरण में 10 वीं कक्षा पास किन्तु 11 वीं और 12वीं कक्षा पास करने में असफल रहे छात्र/छात्राओं के मार्गदर्शन हेतु दिशा निर्देश 18 जून से 28 जून तक की समय सीमा तय की गई है।

हम छू लेंगे आसमान योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए मध्य प्रदेश के विद्यार्थी अपना नाम एनरोल इस लिंक ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रबंधन प्रणाली    के माध्यम से कर सकते हैं।

अन्य योजनायें पढ़िए हिन्द में :

 

Comments

comments

Leave a Reply