MP ki Apni Bus-Sutra Sewa Yojana । म.प्र. की अपनी बस- सूत्र सेवा योजना

Apni Bus- sutra sewa ke tht MP ke margon par sanchalit Bus sewa,MP ki Apni Bus- Sutra sewa Yojana ki visheshtayen, Apni Bus-Sutra Sewa Yojana,MP ki Apni Bus-Sutra Sewa Yojana , म.प्र. की अपनी बस- सूत्र सेवा योजना

बस pic

MP ki Apni Bus-Sutra Sewa Yojana । म.प्र. की अपनी बस- सूत्र सेवा योजना

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा देश के सभी प्रदेशों में सरकारी  परिवहन सुविधा का संचालन करने हेतु बस सूत्र सेवा योजना  प्रारंभ किया गया है इस योजना को अटल मिशन एंड रेजुवेंशन एंड अर्बन ट्रांसफॉर्मेशन स्कीम के अंतर्गत संचालित किया गया है योजना के क्रियान्वयन की जिम्मेदारी स्थानीय निकायों , राज्य सरकारों एवं केंद्र सरकार के सम्मलित प्रयास से की जायेगी

इसी क्रम में मध्य प्रदेश में यात्री- लोक परिवहन की क्लस्टर आधारित हब एंड स्पोक माडल  मध्य प्रदेश बस -सूत्र सेवा योजना की  शुरुआत  23 जून 2018 को इंदौर मे की गई है  अमृत योजना के अंतर्गत 260 बसे मध्य प्रदेश के सभी शहरो एवं  जिलो के बीच आवागमन करेंगी 24 जून 2018 से प्रदेश के दस मार्गों पर 52 सरकारी बसे चलनी शुरू हो चुकीं हैं आइये जाने इस लेख के माध्यम से इस योजना की पूरी जानकारी

अपनी बस -सूत्र सेवा के तहत म.प्र. के मार्गों पर संचालित बस  (Apni Bus- sutra sewa ke tht MP ke margon par sanchalit Bus sewa):

  • सिटी बसों के रुट्स :

गंगवाल बस स्टैंड से सरवटे

सरवटे से देवास नाका वाया बापट चौराहा

तीन इमली से राजेन्द्र नगर

इस्कान मंदिर से बड़ा गणपति

निरंजनपुर से गंगवाल बीएस स्टैंड

महक वाटिका मालवीय नगर चौराहा से राजबाड़ा

अरबिंदो से कलेक्टोरेट

  • इंटरसिटी बसें :

भंवरकुआँ से आई आई टी सिमरोल

इंदौर से महू

इंदौर से पीथमपुर

म.प्र. की अपनी बस- सूत्र सेवा योजना की विशेषताएं (MP ki Apni Bus- Sutra sewa Yojana ki visheshtayen):

  • इस योजना का संचालन प्रदेश में कई चरणों में पूरा किया जाएगा। पहले चरण में 20 शहरों में अपनी बस-सूत्र सेवा का प्रारंभ किया जाएगा।
  • योजना के तहत 127 बसों को 16 नगर निगम एवं 4 नगरपालिका के अंतर्गत आने वाले इलाके में बसों का संचालन किया जाएगा।
  • यह बस सेवा रोडवेज बस सेवा की तरह हीं  होगी। फर्क इतना होगा रोडवेज सेवा के अंतर्गत बस के समय का संचालन सरकार के हाँथो में होता था। अब विशेष कंपनियों की निगरानी में ऑपरेटर के हाँथ में रहेगी।
  • योजना के अंतर्गत 10 रुट्स पर 52 बसों का संचालन शुरू कर दिया गया  है। इनमें 7 इंटरसिटी और 3 सिटी बसे हैं इन बसों का किराया सामान्य बसों जितना हीं होगा। किन्तु इनमें जीपीएस सिस्टम लगा होगा। जिससे इन बसों को ऑनलाइन  ट्रैक किया जा सकेगा। मध्य प्रदेश के निकट के शहरों की बसे रेलवे स्टेशन से एवं दुरस्त शहरों की बसें एआईसीटीएसएल से रवाना होंगी।
  • महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बसों में एक पैनिक बटन लगाया गया है। यदि किसी महिला को असुरक्षा कारणों से मदद की जरुरत हो तो पैनिक बटन को प्रेस कर सकती है।
  • इन बसों के टिकेट की बुकिंग ऑनलाइन किये जाने की भी सुविधा है।

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

 

Comments

comments

Leave a Reply