Mahatma Jyotiba Phule jan Arogya Yojana । महात्मा ज्योतिबा फुले जन आरोग्य योजना

MJPJAY Yojana ke tht ilaaj ke charan, mahatma jyotiba phule jan arogya yojana,mahatma jyotiba phule jan arogya yojana hindi mein, MJPJAY KI Jankaari hindi mein,MJPJAY Yojana ka uddeshy, MJPJAY Yojana ke liye Patrta

MJPJAY YOJANA IMAGE

Mahatma Jyotiba Phule jan Arogya Yojana । महात्मा ज्योतिबा फुले जन आरोग्य

योजना

केंद्र की वर्तमान सरकार द्वारा महाराष्ट्र राज्य में पूर्व से चली आ रही स्वास्थ योजना राजीव गाँधी जीवनदायनी आरोग्य योजना का नाम बदल कर महात्मा ज्योतिबा फुले जन आरोग्य योजना कर दिया गया है। इस योजना की शुरुआत कांग्रेस सरकार के महाराष्ट्र राज्य के स्वास्थ मंत्री सुनील शेट्टी द्वारा शुरू किया गया था। योजना ने काफी लोकप्रियता हासिल की थी। इसकी सफलता को देखते हुए राजीव गाँधी जीवनदायिनी आरोग्य योजना को अन्य राज्यों में भी शुरू किया गया था।

योजना के नए रूप के तहत अनेक बदलाव किये गए हैं। आइये जानते हैं इस योजना के विषय में विस्तार से :

महात्मा ज्योतिबा फुले जन आरोग्य योजना (Mahatma jyotiba phule jan aarogya yojana) :

इस योजना के तहत नागरिको को व्यवस्थित रूप से स्वास्थ सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए सरकार द्वारा एक कॉल सेंटर की शुरुआत की जायेगी। योजना के नए रूप में स्वास्थ सम्बन्धी सुविधा में बदलाव के तहत किडनी प्रत्यारोपण ट्रांसप्लांटेशन की सहायता राशि रूपए  2.50 लाख से बढाकर रूपए 3 लाख तथा योजना अंतर्गत प्रति परिवार इलाज का खर्च रूपए 1.50 लाख से बढ़ाकर रूपए 2 लाख कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त 971 प्रकार के ऑपरेशन जैसे – मोतियाबिंद, कैंसर , ह्रदय रोग , प्लास्टिक सर्जरी आदि की संख्या को बढ़ाकर 1034 कर दिया गया है। इनमें कुल्हे एवं घुटने का प्रत्यारोपण, पेडियाट्रिक सर्जरी, सिकलसेल ऑनमिया, डेंगू , स्वाइन फ्लू  आदि जोड़े गए हैं।

इनमें से कुछ प्रमुख स्वास्थ सुविधाओं की सूचि निम्नलिखित है :

 MJPJAY योजना का उद्देश्य (MJPJAY Yojana ka uddeshy) :

महात्मा ज्योतिबा फुले जन आरोग्य योजना का उद्देश्य राज्य की आर्थिक रूप से कमजोर जनता मुख्यतः ऑरेंज एवं येलो राशन कार्ड की योग्यता रखने वाले तथा महाराष्ट्र राज्य के 14 जिलों (अमरावती , अकोला, औरंगाबाद, बुल्धाना, बीद, हिंगोली,जलना, नांदेड, ओस्मनाबाद, लातूर, परभानी, वार्धा, वाशिम और यावातमाल) के किसी भी रंग के राशन कार्ड की योग्यता वाले किसान जो कि कृषि क्षेत्र की आपदा से ग्रस्त हैं। उन सभी को स्वास्थ सम्बन्धी महंगी सुविधाएँ जैसे सर्जरी, ट्रांसप्लांटेशन, थेरेपी आदि की सेवायें मुफ्त में योजना अंतर्गत चयनित उत्कृष्ट सरकारी अस्पतालों के माध्यम से उपलब्ध करवाना है।

MJPJAY योजना के लिए पात्रता (MJPJAY Yojana ke Liye Patrta) :

  • परिवार की आय रूपए 1 लाख वार्षिक से कम होनी चाहिए।
  • महाराष्ट्र राज्य के 36 जिले के येलो एवं ऑरेंज राशन कार्ड की योग्यता वाले नागरिक जिनके दो से ज्यादा बच्चे न हों।
  • महाराष्ट्र राज्य के 14 जिले के कृषि क्षेत्र की आपदाओं से ग्रस्त सभी किसान।
  • महाराष्ट्र राज्य का नागरिक होना अनिवार्य है।

MJPJAY योजना के लिए दस्तावेज (MJPJAY Yojan ke Liye Dstavez) :

  • आय प्रमाण ।
  • डाक्टर द्वारा दिया गया मरीज के बिमारी का प्रमाण पत्र।
  • मरीज का तीन रंगीन पासपोर्ट साइज़ फोटो।

MJPJAY योजना के तहत उपचार के चरण  (MJPJAY Yojan ke tht upchar ke charan) :

  • योजना के लाभार्थी को पहले अपने निकट के सदर अस्पताल में /योजना अंतर्गत वर्णित अस्पतालों की सूचि में से किसी में / गाँव में लगने वाले सरकारी स्वास्थ शिविर में अपनी जाँच करवाने के लिए जाना होगा।
  • वहां उपस्थित आरोग्यमित्र द्वारा लाभार्थी के राशन कार्ड की प्रति को जमा किया जाएगा तथा नाम,पता, उम्र का रिकॉर्ड एवं आय का प्रमाण पत्र का रिकॉर्ड रजिस्टर कर लिया जाएगा।
  • इसके बाद लाभार्थी को बिमारी से सम्बंधित डाक्टर के पास चेकअप के लिए भेजा जायेगा। बिमारी की पुष्टि होने पर डाक्टर द्वारा लिखा गया बिमारी का विवरण एवं खर्चे का डिटेल आरोग्यमित्र द्वारा रजिस्टर कर लिया जायेगा।
  • बिमारी का कुल खर्चा, अस्पताल, डाक्टर और आने जाने का पूरा खर्च का ब्यौरा अस्पताल द्वारा मरीज के नाम से पूर्व अधिकृत बीमा कम्पनी तथा MJPJAY योजना के वेब पोर्टल पर ऑनलाइन दर्ज किया जाएगा। इस प्रक्रिया का अनुमोदन 24 घंटे के समय अवधि में पूरा कर दिया जाएगा।
  • इसके बाद मरीज का इलाज शुरू हो जायेगा। उपचार के दौरान मरीज को बिमारी से सम्बंधित किसी भी खर्च का भुगतान नहीं करना होगा।

 

महाराष्ट्र सरकार की अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

 

 

Comments

comments

One Response

  1. Abdul hasab Khan August 13, 2018

Leave a Reply