IRCTC ki Paryatan train Yojana । IRCTC की पर्यटन रेल योजना

irctc ki paryatan train yojana, bharat darshan train yojana,videshi paryatakon ko lubhaane ki yojana, rail paryatan ko badhava dene ki yojana, paryatan traino ki list, paryatan train ki jaankari

पर्यटन ट्रेन योजना pic

IRCTC ki Paryatan train Yojana । IRCTC की पर्यटन रेल योजना

पर्यटन मंत्रालय द्वारा वर्ष 2002 में भारतीय पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रिय पर्यटन निति तैयार की गयी थी। जिसके अंतर्गत चरणबद्ध तरीके से पर्यटन का विकास करने के लिए अतुल्य भारत अभियान शुरू किया गया है। इसी अभियान के तहत वर्ष 2017-18 के बजट में विदेशी पर्यटकों को लुभाने के लिए अनेक योजनाओं का संचालन किया गया है।

जिसमें पांच पर्यटन जोन की स्थापना, नयी पर्यटन ट्रेन्स की शुरुआत, धार्मिक पर्यटन को को बढ़ावा देने के लिए सूफी, जैन, सिख एवं बौद्ध धर्मों के आधार पर पर्यटन के विकास की योजना बनायी गयी है। आइये जानें इस लेख के माध्यम से अतुल्य भारत अभियान के तहत पर्यटन ट्रेन से सम्बंधित जानकारी।

गिलास सीलिंग वाली ट्रेन (Glass (CEILING WALI TRAIN) :

वर्ष 2017-18 के बजट में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्विटज़रलैंड रेलवे जैसी गिलास सीलिंग वाली ट्रेन इसी वर्ष   के दिसंबर महीने से कश्मीर और दक्षिण भारत के अराकू वैली के रेलवे रूट्स से शुरू की जाने की संभावना है। इस ट्रेन की एक कोच की कीमत 4 करोड़ होगी। इस हाईटेक ट्रेन को चलाने से देश में रेल पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। इस तरह की ट्रेन को शुरू करना केंद्र सरकार केंद्र सरकार की 12 वीं पंचवर्षीय योजना के तहत रेलवे को आधुनिक बनाने की योजना का एक भाग है।

  हेरिटेज आन व्हील्स ट्रेन (Heritage on wheels train) :

इस ट्रेन को पहले पैलेस आन व्हील्स के नाम से जाना जाता था। इस ट्रेन में भारत के रजवाड़े की तर्ज पर सुविधाएं उपलब्ध करायीं गयीं हैं। वर्ष 2007 से 2014 तक ट्रेन से सफ़र करने वाले देशी और विदेशी पर्यटकों की संख्या में लगातार गिरावट आई। इसके बाद वर्ष 2015 में तो ट्रेन में पर्याप्त बुकिंग न हो पाने के अभाव में ट्रेन रद्द करनी पड़ी। इन हालत से निपटने के लिए रेल मंत्रालय ने ट्रेन में मिलने वाले खाने की गुणवत्ता और ट्रेन के किराए में भी बदलाव करने की योजना बनाई है।

हेरिटेज आन व्हील से सफर करने का लुत्फ़ अब साल के अंतिम सप्ताह और साल की शुरुआत में पर्यटक कम कीमत में ले पायेंगे। हेरिटेज आन व्हील्स का किराया गोल्डन ट्रायंगल (वर्ष के अंतिम सप्ताह और वर्ष के पहले सप्ताह) पर 650 डालर से घटा कर 300 डालर अर्थात भारतीय रूपए के अनुसार रूपए 19200 कर दिया गया है।

आस्था सर्किट ट्रेन (Astha circuit train) :

धार्मिक पर्यटन हेतु रेल के सफ़र को बढावा देने के लिए आस्था सर्किट ट्रेन की शुरुआत की गयी है। इसके तहत बुद्ध सर्किट ट्रेन का शुभारम्भ किया गया है। आस्था सर्किट रेल सेवा केवल धार्मिक स्थलों की सैर के लिए होगी।

भारत दर्शन ट्रेन (Bharat darshan train) :

इन ट्रेनों के सभी कोच स्लीपर होंगे और ट्रेन का किराया मेल एक्सप्रेस के बराबर होगा।

ट्रेन के भोजन की गुणवत्ता में सुधार (train ke bhojan ki gunvatta mein sudhar):

IRCTC द्वारा पर्यटकों को भारत के रजवाड़ो की राजसी ठाट- बाट का आनंद अनुभव कराने के लिए विशिष्ट ट्रेनों में चांदी की प्लेट में भोजन परोसने पर विचार किया जा रहा है। अभी तक हेरिटेज आन व्हील्स में ये सुविधा पर्यटकों की फरमाइश पर उपलब्ध कराई जाती थी। रेल पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से अब ये सुविधा अन्य लक्ज़री ट्रेनों में भी उपलब्ध कराने की योजना पर विचार किया जा रहा है। इन ट्रेनों के नाम निम्नलिखित हैं :

हेरिटेज आन व्हील्स

फेयरी क्वीन

डेक्कन ओडिसी

गोल्डन चैरियेट

राजधानी

शताब्दी

दुरंतो

इसके अतिरिक्त हर दो घंटे में ताजा भोजन उपलब्ध कराने की योजना पर भी विचार किया जा रहा है। खाने की क्वालिटी को बेहतर करने के लिए स्वयं सहायता समूह और IRCTC के अधिकारियों से विचार विमर्श करने के बाद देश भर में मेगा किचन बनाने की योजना पर काम चल रहा है।

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में:

Comments

comments

Leave a Reply