Ayushman Bharat Yojana – 2018 आयुष्मान भारत योजना -2018

Ayushman Bharat Yojana kya HAI, Ayushman Bharat Yojana ke liye patrta, Ayushman Bharat Yojana ki Visheshtaaye , Ayushman Bharat Yojana mein Aavedn , Ayushman Bharat Yojana – 2018

ayushmaan bharat  yojana pic

Ayushman Bharat Yojana – 2018 आयुष्मान भारत योजना -2018

*_आयुष्मान भारत योजना: कैसे होगा मुफ्त में इलाज?; यहां पढ़ें डिटेल्स_*

सरकार की आयुष्मान भारत योजना रविवार (23) सितंबर से शुरू होगी. पांच लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा इसमें लोगों को दिया जाएगा. इसमें कैसे शामिल होंगे, अस्पताल में भर्ती होने के बाद क्या करना है? आइए जानें –

💁‍♂ *_सवाल- मैं इस योजना के तहत आता हूं कि नहीं कैसे ये पता चलेगा?_*
*_जवाब-_* सन 2011 की जनगणना में गरीबी रेखा से नीचे के लोगों को इसमें जगह मिलेगी. आप अपनी पंचायत में जाकर भी पता कर सकते हैं.

या फिर – इसके लिए आपको सबसे पहले mera.pmjay.gov.in पर जाना होगा. मोबाइल नंबर डालकर OTP Verify करें. (राज्य) का नाम पूछा जाएगा. स्टेट सेलेक्ट करने के बाद मोबाइल नंबर/राशन कार्ड नंबर की मदद से जान सकेंगे कि आपको इस योजना का लाभ मिल रहा है कि नहीं.

💁‍♂ *_सवाल- अस्पताल जाकर क्या करना होगा?_*
*_जवाब-_* मरीज को अस्पताल में जाकर आरोग्य मित्र से मिलना होगा. वह आपके आपके आईडी प्रूफ मांगेगा. राशन कार्ड या फिर कोई भी अन्य कार्ड आपको दिखाना होगा. आरोग्य मित्र आपको ई-कार्ड देगा. इसमें आपकी फोटो के साथ आपका एड्रेस होगा. दूसरी बार प्रोसेस दोहराना नहीं होगा बल्कि ई-कार्ड दिखाने से काम बना जाएगा.

💁‍♀ *_सवाल- अस्पताल जाकर क्या पैसा देना होगा?_*
*_जवाब:_* आपको इसके लिए एक रुपया भी नहीं देना है. अगर आपसे कोई पैसा मांगता है तो आपकी इसकी शिकायत *_14555_* पर फोन कर सकते है.

💁‍♂ *_सवाल- कौन सी बीमारियों का इलाज करवा पाएंगे?_*
*_जवाब-_* आसान शब्दों में समझे तो मतलब साफ है कि जिन बीमारियों में आपको हॉस्पिटल में भर्ती नहीं होना पड़ता है. आप अपनी बीमारी के लिए डॉक्टर की सलाह पर बाहर से दवाइयां ले सकते है. इस योजना का फायदा हॉस्पिटल में भर्ती होने पर ही मिलेगा. इसमें भर्ती के तीन दिन पहले और हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के 15 दिन बाद का खर्च मिलेगा.

💁‍♀ *_सवाल कौन से राज्य में कितने वेलनेस सेंटर?_*
*_जवाब-_* इसके दो कंपोनेंट हैं. पहला, 10.74 लाख परिवारों को मुफ्त 5 लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा. दूसरा, हेल्थ वेलनेस सेंटर. इसमें देश भर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अपडेट होंगे. इन सेंटर में इलाज होगा और मुफ्त दवाइयां मिलेंगी. छत्तीसगढ़ में 1000, गुजरात में 1185, राजस्थान में 505, झारखंड में 646, मध्य प्रदेश में 700, महाराष्ट्र में 1450, पंजाब में 800, बिहार में 643, हरियाणा में 255.

💁‍♂ *_सवाल-क्या आधार कार्ड के बिना मिलेगा योजना का लाभ?_*
*_जवाब-_* आयुष्मान भारत योजना के लिए आपको आधार कार्ड की जरूरत नहीं है. सुप्रीम कोर्ट के अनुसार किसी भी सरकारी स्कीम का लाभ उठाने के लिए आपको आधार कार्ड की जरूरत नहीं है.

Ayushman Bharat Yojana – 2018 आयुष्मान भारत योजना -2018

केंद्र सरकार द्वारा वित्तीय वर्ष 2017-18 के बजट में आयुष्मान भारत योजना की घोषणा की गयी थी मोदी सरकार की एस महत्वकांक्षी योजना को देश में हीं नहीं विदेशों में भी लोकप्रियता हासिल हो रही है। यह योजना देश के करीब 50 करोड़ लोगों को 5 लाख रूपए की स्वास्थ बीमा का लाभ पहुँचाएगी। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा आयुष्मान भारत योजना को 15 अगस्त 2018 को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के जान्गाल गाँव से लांच किया जाएगा। नक्सलवादी बाहुल्य क्षेत्र से स्वास्थ सुरक्षा से संबधित योजना की शुरुआत करके प्रधानमंत्री देश को ये सन्देश देंगे कि उनका लक्ष्य देश के प्रत्येक नागरिक तक योजनाओं का लाभ पहुँचाना है। आयुष्मान भारत योजना प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्त्व में शुरू किया गया अब तक का सबसे महत्वकांक्षी योजना है, जिसका प्रचार मोदी केयर के नाम से किया जा रहा है। भारत सरकार इस योजना के तहत दो प्रकार से जनता को लाभ प्रदान करेगी, एक राष्ट्रिय स्वास्थ बीमा मिशन के तहत आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को प्रत्येक परिवार के सभी सदस्यों को 5 लाख के स्वास्थ बीमा योजना का लाभ देकर और दूसरा स्वास्थ केन्द्रों की स्थापना करके। इस योजना के तहत देश की 40% आबादी को शामिल किया जाएगा तथा टीबी के रोगियों को हर महीने रूपए 500 की राशि दी जायेगी। आइये जाने इस लेख के माध्यम से योजना की जानकारी :

आयुष्मान भारत योजना क्या है (Ayushman Bharat Yojana kya HAI) :

यह योजना दो प्रकार से जनता को लाभान्वित करेगी,पहला गरीबी रेखा के नीचे आने वाले परिवारों के प्रत्येक सदस्य को रूपए 5 लाख तक का स्वास्थ बीमा के तहत कैशलेस इलाज की सुविधा देकर और दूसरा देश के प्रत्येक प्रदेश में एम्स स्तर का स्वास्थ केंद्र एवं प्रत्येक जिले में एक मेडिकल कालेज की स्थापना करके, इसके अतिरिक्त प्रत्येक ग्राम पंचायत के निकट प्राथमिक स्वास्थ केंद्र की स्थापना करके। जिसमें सभी गरीब परिवारों का इलाज माध्यमिक और त्रित्यक स्तर पर मुफ्त में करने की सुविधा देकर। रास्ट्रीय स्वास्थ मिशन के तहत इस योजना का लक्ष्य देश के 50 करोड़ लोगों तक पहुँचाने का है।

आयुष्मान भारत योजना के तहत रास्ट्रीय स्वास्थ सुरक्षा मिशन के लिए लाभार्थियों का चयन सामाजिक, आर्थिक , जाति जनगणना (SECC ) के डाटा के आधार पर किया जाएगा। योजना के तहत देश के सभी शहरी एवं गरीब नागरिकों को शामिल किया जाएगा। इस योजना का शुभारम्भ होते हीं राष्ट्रीय बीमा योजना और संजीवनी राहत कोष इसमें मर्ज कर दिए जायेगे। आयुष्मान भारत योजना का संचालन केंद्र सरकार और राज्य सरकार के सम्मलित सहयोग से किया जाएगा।

आयुष्मान भारत योजना के लिए पात्रता (Ayushman Bharat Yojana ke liye patrta) :

इस योजना का लाभ देश के सभी गरीबी रेखा के नीचे आय वर्ग के परिवारों को स्वास्थ सम्बन्धी सुरक्षा हेतु रूपए 5 लाख का बीमा करवाने पर प्राप्त हो सकेगा। जिसके बदले में बीमाधारी परिवारों को लगभग रूपए 1100 वार्षिक जमा करना होगा। इस बीमा के तहत गरीब परिवारों के सभी सदस्यों का योजना के तहत निर्धारित बीमारी का इलाज मुफ्त यानि बीमा की राशि से कैशलेस होगा।

आयुष्मान भारत योजना की विशेषताएं (Ayushman Bharat Yojana ki Visheshtaaye) :

  • इस योजना के तहत बीमाधारी परिवार को इलाज के लिए देश के किसी भी सरकारी एवं प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज कराने पर बीमा की राशि कैशलेस मुहैया कराई जाएगी।
  • रूपए 5 लाख के बीमा की राशि का उपयोग गरीबी रेखा के नीचे के परिवार के किसी भी सदस्य की बीमारी के लिए उपयोग किया जा सकेगा ।
  • बिमारी के खर्च की लागत को नियंत्रित करने के लिए सरकार द्वारा योजना के तहत निर्धारित पॅकेज दर के आधार पर भुगतान किया जाएगा।
  • इस योजना को किसी भी प्रदेश में केंद्र एवं प्रदेश सरकार के सम्मलित प्रयास से हीं लागू किया जा सकेगा।
  • आयुष्मान भारत योजना को अपने प्रदेश में लागू करने के लिए प्रदेश सरकारों को स्टेट हेल्थ एजेंसी (SHA) की स्थापना करना अनिवार्य होगा।
  • राष्ट्रिय स्वास्थ सुरक्षा मिशन के अंतर्गत केंद्र द्वारा संचालित राष्ट्रिय बीमा योजना और वरिष्ठ नागरिक पेंशन योजना को विलय (merge) कर दिया जाएगा।
  • योजना के तहत बीमा की राशि का लेन – देन कैशलेस करने के लिए एनआईटीआई आयोग के साथ साझेदारी में, एक मजबूत, मॉड्यूलर, स्केलेबल और इंटरऑपरेबल आईटी प्लेटफॉर्म को तैयार किया जाएगा। जिसके माध्यम से पेपरलेस, कैशलेस लेनदेन को लागू किया जाएगा।

आयुष्मान भारत योजना में आवेदन (Ayushman Bharat Yojana mein Aavedn ) :

इस योजना के तहत बीमा का लाभ लेने के लिए आवेदन की जानकारी अभी उपलब्ध नहीं कराई गयी। योजना के लागू होने पर जल्दी हीं इस योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए वेब पोर्टल की जानकारी भी प्राप्त हो जायेगी।

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

Comments

comments

One Response

  1. डेरेक डगलस November 21, 2018

Leave a Reply