बिहार मुख्यमंत्री की कन्या उत्थान योजना -2018 (Bihar Mukhyamantri kanya utthaan yojana-2018)

MUKHYAMANTRI KANYA UTTHAAN YOJANA KA UDDESHYA, MUKHYAMANTRI KANYA UTTHAAN YOJANA KI, Bihar Mukhyamantri kanya utthaan yojana-2018, VISHESHTAYEN, MUKHYAMANTRI KANYA UTTHAAN YOJANA KE LIYE PATRTA , मुख्यमंत्री की कन्या उत्थान योजना, कन्या उत्थान योजना

कन्या उत्थान योजना PIC

बिहार मुख्यमंत्री की कन्या उत्थान योजना -2018 (Bihar Mukhyamantri kanya utthaan yojana-2018)

देश के बिहार राज्य में कन्या बाल विवाह जैसी कुप्रथा आज भी व्याप्त है। जिसके कारण  देश में साक्षरता का अनुपात भी अन्य राज्यों की तुलना में कम है। बिहार राज्य  से इस कुप्रथा को समाप्त करने के लिए  राज्य के मुख्यमंत्री नितीश कुमार द्वारा  मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना की शुरुआत की गई है। यह योजना राज्य के सामाजिक कल्याण विभाग द्वरा संचालित किया जाएगा। योजना की घोषणा अक्टूबर 2018 में मुख्यमंत्री नितीश कुमार द्वरा की गई है।  कन्या उत्थान योजना का उद्देश्य राज्य में लड़कियों के शिक्षा को बढ़ावा देना तथा बाल विवाह को रोकने के अभियान को सफल बनाना है। आइये जाने योजना की पूरी जानकारी।

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना का उद्देश्य (MUKHYAMANTRI KANYA UTTHAAN YOJANA KA UDDESHYA) 

  • यजन का उद्देश्य राज्य की लड़कियों का सामाजिक, आर्थिक एवं शैक्षिक सशक्तिकरण करना है।
  • राज्य में कन्या भ्रूण हत्या को रोकना।
  • राज्य में लड़कियों के जन्म से लेकर सभी टीकाकरण हेतु आंगनवाड़ी केन्द्रों में नामांकन की व्यवस्था करना जिससे मृत्यु दर में कमी आये एवं लिंग अनुपात बराबर हो सके।
  • पारिवारिक, आर्थिक और सामाजिक स्तर पर लड़कियों की भागीदारी को बढ़ावा देना।
  • प्रदेश की लड़कियों के बाल विवाह पर रोक लगाना।
  • लड़कियों को समाज में सम्मानपूर्वक जीवन यापन करने हेतु आत्मनिर्भर बनाने के लिए शिक्षा को  को बढ़ावा देना।

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना की विशेषताएं  (MUKHYAMANTRI KANYA UTTHAAN YOJANA KI VISHESHTAYEN) 

  • कन्या के जन्म पर माता-पिता के बैंक अकाउंट में राज्य सरकार की और से रूपए 2000 जमा किये जाने का प्रावधान है।
  • कन्या के एक वर्ष पूरा होने पर उसका आधार कार्ड बनवाने पर रूपए रूपए 1000 प्रदान किये जाना निर्धारित किया गया है।
  • बालिका के सभी टीकाकरण समयानुसार पूरा करने पर माता-पिता के बैंक खाते में रूपए 2000 राज्य सरकार द्वारा हस्तांतरित किया जाएगा।
  • बालिका के 12 वीं कक्षा पास करने पर अविवाहित होने की शर्त पर राज्य सरकार द्वारा 10 हज़ार रूपए दिए जायेंगे।
  • ग्रेजुएशन पूरा करने पर रूपए 25 हज़ार दिए जायेंगे।
  • लड़कियों की सेनेटरी नैपकिन के लिए रूपए 300 दिए जायेंगे।
  • 3 वर्ष से 6 वर्ष की बालिकाओं के स्कूल ड्रेस के लिए प्रति वर्ष रूपए 400 प्रदान किये जायेंगे।
  • इस प्रकार बिहार राज्य में एक बीपीएल  परिवार की दो कन्याओं को जन्म से लेकर ग्रेजुएशन तक रूपए 54100 दिए जाने का प्रावधान किया गया है।

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के लिए पात्रता  (MUKHYAMANTRI KANYA UTTHAAN YOJANA KE LIYE PATRTA) 

  • राज्य की सभी वर्गों की अविवाहित कन्याओं को 12 वीं कक्षा पास करने पर रूपए  10 हज़ार प्रदान किये जायेंगे।
  • सरकारी मान्यता प्राप्त, अर्धसरकारी  मान्यता प्राप्त स्कूलों , राज्य सरकार से मान्यता प्राप्त विद्यालयों ,मदरसा बोर्ड एवं संस्कृत विद्यालय से 12 वीं कक्षा पास करने वाली छात्राएं योजना का लाभ उठा पाएंगी।
  • प्रदेश के विश्वविद्यालय से  ग्रेजुएशन पास करने वाली विवाहित अथवा अविवाहित छात्राएं रूपए 25 हज़ार प्राप्त करने के लिए पात्र होंगी।

अन्य योजनायें पढ़िए हिंदी में :

रीजनल कनेक्टिविटी योजना, मध्य प्रदेश 

पेट्रोल पंप डीलरशिप के आवेदन की जानकारी

केंद्र सरकार की अटल भूजल योजना -2018

 

 

 

A

 

Comments

comments

Leave a Reply