प्रधान मंत्री सुरक्षा बीमा योजना| Pradhanmantri Surksha bima yojna

प्रधानमंत्री सुरक्षा बिमा योजना की पूरी जानकारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने एक सुरक्षा बिमा योजना शुरू की हैः प्रधान मंत्री सुरक्षा बीमा योजना यह एक दुर्घटना मृत्यु और विकलांगता बीमा योजना है।प्रधानमंत्री सुरक्षा बिमा योजना ज्यादातर लोगो को नहीं मिली है |अब भी शुरू Atal pention yojna jane hindi meकी गई कई सरकारी योजनाओं की जानकारी समय पर लोगो तक नहीं पहुंच पाती है इसिलिए हम इस पोस्ट के माध्यम से यह प्रधानमंत्री सुरक्षा बिमा योजना लोगो तक पंहुचा रहे है।आज भी भारत की आबादी का एक बड़ा हिस्सा ग्रामीण इलाकों में रहता है और उनमें से ज्यादातर लोग किसी भी सामाजिक सुरक्षा योजना के दायरे में नहीं आते है। इस आबादी के एक बड़े तबके को तो अब तक बैंकिंग प्रणाली का भी लाभ नहीं मिला है। ज्यादातर लोगो को अभी भी समय-समय पर शुरू की गई कई सरकारी योजनाओं की जानकारी नहीं मिल पाती है साधारण लोगो और गरीब लोगों की जिंदगी में शामिल इस गंभीर समस्या में सुधार लेन के लिए भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 मई 2015 को कोलकाता में प्रधानमंत्री सुरक्षा बिमा योजना की घोसणा करि थी। इसके साथ ही दो और अन्य बीमा सुरक्षा और पेंशन योजनाएं भी शुरू की गई थी । इन योजनाओं को लेकर सरकार की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है| कि इनकी सफलता के लिए वरिष्ठ कैबिनेट मंत्रियों को राज्यों की राजधानियों और बड़े नगरों में भेजा गया था । और इन योजनाओ को जिस उद्देश्य से आरम्भ किया गया था वः उद्देस्य पूरा होता हुआ भी नजर आ रहा है

 क्या है सुरक्षा बिमा योजना ?

प्रधानमंत्री सुरक्षा बिमा योजना एक प्रकार की दुर्घटना बीमा पॉलिसी हैं। जिसके तहत आप दुर्घटना के समय मृत्यु  अथवा विकलांग होने पर बीमा की राशि के लिए CLAIME किया जा सकता हैं। प्रधामंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY) एक साल तक मान्य रहेगी। जिसे प्रति एक वर्ष बाद नवीकरण करना होगा । प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा  योजना के अनुसार म्रत्यु एवम विकलांग होने पर 2 लाख रूपये एवम मदद के तौर पर अपंग होने पर 1 लाख रुपये  बीमा राशि प्रदान की जायेगी। प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना का लाभ 18 से 70 वर्ष का व्यक्ति ले सकता हैं।  प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana) से जुड़ने पर आपको 12 रुपये  प्रति वर्ष किस्त के तौर पर बैंक में जमा करानी होगी जो आपको आकस्मिक दुर्घटना के समय सरकार दुवारा  प्रधानमंत्री सुरक्षा बिमा धारक को प्रदान की जाएगी ।

       प्रधानमत्री सुरक्षा बिमा योजना की पात्रता किस किस को हे |

  • प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (Pradhan mantri Suraksha Bima Yojana) के तहत 18 से 70 वर्ष का कोई भी भारतीय नागरिक लाभ उठा सकता हैं ।
  • प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY) से जो भी जुड़ रहा है उस व्यक्ति के पास उसका सूयम का आधार कार्ड होना अनिवार्य हैं ।
  • यदि किसी बैंक खाताधारक के पास एक या एक से अधिक बचत खाता हैं| तो वह किसी एक बचत खाते को प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PM Surksha Bima Yojana) से जोड़ सकता हैं।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बिमा योजना फॉर्म के लिए यहां क्लिक करे |

PMSBY ApplicationForm Hindi

pradhan-mantri-suraksha-bima-yojana-hindi-

More Read:मुख्यमंत्री युवा स्व-रोजगार योजना के बारे में जानें

पीएमएसबीवाय के तहत कौन पात्र है?

18 और 70 वर्ष आयु समूह के बीच का कोई भी व्यक्ति, जिसका बचत बैंक खाता और आधार कार्ड हो, वह इस योजना से जुड़ सकता है।

एक आसान फॉर्म भरना होगा, नॉमिनी का नाम लिखना होगा और आधार कार्ड को बैंक खाते से लिंक करना होगा। व्यक्ति को हर साल एक जून से पहले इस योजना में बने रहने के लिए फॉर्म जमा करना होगा। इससे खाता आसानी से सक्रिय किया जा सकता है और पूरा प्रीमियम उसके खाते से खुद-ब-खुद काट लिया जाएगा। अन्य शब्दों में, व्यक्ति को सिर्फ बैंक खाता खोलना होगा और फिर सुनिश्चित करना होगा कि हर साल 1 जून से पहले कम से कम 12 रुपए खाते में उपलब्ध रहे। ताकि योजना का नवीनीकरण हो जाए।यदि किसी व्यक्ति को इस योजना का लाभ लंबी अवधि के लिए चाहिए तो उसके पास यह विकल्प भी होगा कि वह बैंक को निर्देश देकर योजना के खुद-ब-खुद नवीनीकरण की व्यवस्था सुनिश्चित करें।

पीएमएसबीवायकौन क्रियान्वित करेगा?

सभी सरकार-प्रायोजित सामान्य बीमा कंपनियां यह योजना पेश करेंगी। जबकि अन्य बीमा कंपनियों के पास विकल्प होगा कि वह बैंकों के साथ अनुबंध कर इन योजनाओं के तहत प्रोग्राम डिलीवरी में शामिल हो जाए।

क्या मुझे स्कीम में शामिल होने से किसी तरह का टैक्स लाभ होगा?

हितग्राहियों के बैंक खाते से काटी जाने वाली पूरी प्रीमियम धारा 80सी के तहत करमुक्त होगी। इतना ही नहीं, इस योजना के तहत मिलने वाली एक लाख रुपए तक की राशि धारा 10(10डी) के तहत कर मुक्त होगी। एक लाख रुपए से ज्यादा राशि होने पर 2 प्रतिशत की दर से टीडीएस काट लिया जाएगा। यदि फॉर्म 15एच या फॉर्म 15जी बीमा एजेंसी में जमा किया तो यह टैक्स नहीं कटेगा।

और पढ़े: प्रधानमंत्री उज्जवल योजना के बारे में जाने|

मौजूदा सरकार को एक ही बार में तीन बड़े सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रम शुरू करने की जरूरत क्यों पड़ी?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली मौजूदा सरकार का एक साल का कार्यकाल पूरा होने जा रहा है। यह महसूस किया गया कि उनके प्रदर्शन का बारीकी से विश्लेषण किया जाएगा। एक साल सत्ता में रहने के बाद भी चुनावी वादों और वास्तविकताओं में बहुत बड़ा अंतर है।

सरकार इस बात को लेकर आलोचनाओं से घिर गई कि सरकार खर्च करने में गति नहीं बढ़ा पा रही है। खासकर बुनियादी ढांचे और विनिर्माण के क्षेत्र में, जहां इसकी बहुत ज्यादा जरूरत है। संसद में कई विधेयक लंबित हैं, जिनसे इन क्षेत्रों को काफी उम्मीदें हैं। इनमें गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) और प्रमुख जमीन अधिग्रहण विधेयक शामिल है। सरकार इस वजह से न केवल इन सामाजिक सुरक्षा योजनाओं की घोषणाओं को लेकर उत्सुक थी, बल्कि विभिन्न तबकों में पर्याप्त प्रचार-प्रसार भी चाहती थी। खासकर उन लोगों के बीच जिन्हें इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है।

 

Social-Security-Schemes

 

 

 

 

 

और योजनाओ के बारे में जाने

Comments

comments

Leave a Reply